प्रियंका को बैठाकर विधायक ने बिना हेल्मेट चलाई स्कूटी, 6300 का कटा चालान

प्रियंका गांधी कांग्रेस के 134वें स्थापना दिवस के मौके पर पार्टी की ओर से आयोजित संविधान 'बचाओ, देश बचाओ' कार्यक्रम का नेतृत्व करने लखनऊ में थीं. कार्यक्रम के बाद वह स्कूटी पर बैठकर पूर्व आईपीएस एस आर दारापुरी के परिजन से मिलने पहुंचीं. दारापुरी को नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान हिंसा फैलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

प्रियंका को बैठाकर विधायक ने बिना हेल्मेट चलाई स्कूटी, 6300 का कटा चालान

लखनऊः उत्तर प्रदेश की ट्रैफिक पुलिस ने राजस्थान के कांग्रेस विधायक धीरज गुर्जर पर 6,300 रुपये का जुर्माना लगाकर यही संदेश दिया है कि कानून सबके लिए बराबर है. गुर्जर ने शनिवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को बिठाकर स्कूटी चलाई थी. तब दोनों ने हेल्मेट नहीं पहना था. सोशल मीडिया पर कई लोगों ने इस पर सवाल उठाया था और गुर्जर का चालान काटने की मांग की थी.

गिरफ्तार पूर्व IPS के घर गईं थीं प्रियंका
प्रियंका गांधी कांग्रेस के 134वें स्थापना दिवस के मौके पर पार्टी की ओर से आयोजित संविधान 'बचाओ, देश बचाओ' कार्यक्रम का नेतृत्व करने लखनऊ में थीं. कार्यक्रम के बाद वह स्कूटी पर बैठकर पूर्व आईपीएस एस आर दारापुरी के परिजन से मिलने पहुंचीं. दारापुरी को नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान हिंसा फैलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

इन पांच आरोपों में कटा चालान
ट्रैफिक पुलिस ने पांच आरोपों में चालान काटा है. इनमें बिना हेल्मेट के दोपहिया वाहन चलाने, यातायात नियम का उल्लंघन करने, नंबर प्लेट या फैकल्टी नंबर प्लेट नहीं होने, खतरनाक रूप से वाहन चलाने और बिना लाइसेंस के वाहन चलाने के आरोप शामिल हैं. पुलिस ने मोटर व्हीकल ऐक्ट की विभिन्न धाराओं के तहत कार्रवाई करते हुए 6,300 रुपये का चालान काटा है.

पहले लगाया पुलिस पर आरोप फिर पलटीं
दरअसल, जब प्रियंका अपने दलबल के साथ दारापुरी के परिजनों से मिलने निकलीं तो पुलिस ने कथित कथित तौर पर उनका रास्ता रोकने की कोशिश की. बताया जा रहा है कि पुलिस ने लोहिया पथ पर प्रियंका को आगे बढ़ने से रोक दिया. तब प्रियंका ने स्कूटी का सहारा लिया और दारापुरी के घर पहुंचीं. प्रियंका ने आरोप लगाया कि लखनऊ पुलिस ने उनका गला दबाया और धक्का देकर गिरा दिया. हालांकि, कुछ देर बाद ही प्रियंका अपने बयान से पलट गईं. वहीं, प्रियंका गांधी के साथ हुई कथित बदसलूकी के मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के पास एक शिकायत भी दर्ज कराई गई है.

पुलिस ने नकारी बदसलूकी की बात
लखनऊ के एसएसपी कलानिधि नैथानी ने प्रियंका के आरोप को पूरी तरह गलत बताया. इस संबंध में सीओ एमसीआर डॉ. अर्चना सिंह ने रिपोर्ट दी है. वह प्रियंका गांधी की फ्लीट की सुरक्षा प्रभारी थीं. रिपोर्ट में कहा गया है कि प्रियंका गांधी पार्टी दफ्तर से गोखले मार्ग के लिए निकली थीं. उनकी फ्लीट तय रास्ते से न जाकर लोहिया पथ की तरफ जाने लगी. इस पर जब बातचीत की गई तो कोई सही जवाब नहीं मिला. बाकी आरोप गलत हैं.

प्रियंका के साथ हुए गलत व्यवहार की रॉबर्ट वाड्रा ने की निंदा, किया ट्वीट

कौन हैं धीरज गुर्जर?
धीरज गुर्जर राजस्थान की जहाजपुर विधानसभा सीट से विधायक हैं. इसके अलावा वह कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव और उत्तर प्रदेश के सह प्रभारी भी हैं. धीरज गुर्जर को प्रियंका गांधी का काफी विश्वस्त माना जाता है.

दिल्ली में मौसम विभाग का रेड अलर्ट