LIVE: राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद के सभी अपडेट सिर्फ यहां

राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुना दिया है. अदालत के फैसले सुनाने के बाद तरह तरह की प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं. इन्हें जानने के लिए देखते रहें ज़ी हिंदुस्तान- 

अंतिम अपडेट: शनिवार नवम्बर 9, 2019 - 12:08 PM IST

9 नवम्बर 2019, 12:09 बजे

अयोध्या मामले के पक्षकार इकबाल अंसारी ने राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया. उनका कहना था कि वह इस बात से खुश हैं कि आखिरकार अदालत ने फैसला सुना दिया

 

9 नवम्बर 2019, 12:08 बजे

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को ऐतिहासिक करार दिया

 

9 नवम्बर 2019, 11:42 बजे

राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील जफरयाब जिलानी ने दिया बयान- 

हम अदालत के फैसले का सम्मान करते हैं, लेकिन हम इससे संतुष्ट नहीं है, हम आगे के कदमों पर विचार कर रहे हैं

 

9 नवम्बर 2019, 11:39 बजे

राम जन्मभूमि के फैसले के बाद कुछ वकीलों ने जय श्री राम का नारा लगाया, लेकिन उन्हें दूसरे वकीलों ने रोका

 

9 नवम्बर 2019, 11:37 बजे

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद  प्रतिक्रियाओं का दौर शुरु, हिंदू महासभा के वकील ने इसे ऐतिहासिक फैसला करार दिया

 

 

9 नवम्बर 2019, 11:28 बजे

अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनाने का रास्ता साफ हुआ

विवादित स्थल को राम जन्मभूमि न्यास को सौंपा जाएगा

सुप्रीम कोर्ट ने दिया आदेश 

9 नवम्बर 2019, 11:24 बजे

अयोध्या में विवादित स्थल पर मंदिर बनेगा

सुन्नी वक्फ बोर्ड को अयोध्या में 5 एकड़ जमीन मिलेगी

अयोध्या मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट का फैसला गलत था

विवादित जमीन का बंटवारा नहीं होगा

अयोध्या के लिए केन्द्र सरकार 3 महीने में ट्रस्ट बनाए

9 नवम्बर 2019, 11:19 बजे

मुस्लिम पक्ष को अयोध्या में ही 5 एकड़ जमीन दी जाएगी

9 नवम्बर 2019, 11:15 बजे

पक्षकार गोपाल विशारद को पूजा का अधिकार दिया गया

सुप्रीम कोर्ट ने दिया फैसला

9 नवम्बर 2019, 11:13 बजे

रामलला विराजमान की स्थिति बरकरार रहेगी

राम जन्मभूमि न्यास को विवादित जमीन दी जाएगी

सुप्रीम कोर्ट ने दिया फैसला

9 नवम्बर 2019, 11:11 बजे

सुन्नी वक्फ बोर्ड को 5 एकड़ जमीन दिए जाने का आदेश

अयोध्या पर सरकार ट्रस्ट का गठन करे

सुन्नी वक्फ बोर्ड को वैकल्पिक जमीन दिए जाने का आदेश

9 नवम्बर 2019, 11:10 बजे

अयोध्या मामले पर योजना बनाने के लिए सरकार को दिया गया तीन महीने का वक्त

9 नवम्बर 2019, 11:09 बजे

सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला

मुस्लिम पक्ष को दूसरी जगह जमीन दिए जाने का आदेश

रामलला विराजमान का दावा बरकरार

9 नवम्बर 2019, 11:07 बजे

मुसलमानों को वैकल्पिक जमीन देने का आदेश, इलाहाबाद हाईकोर्ट का फैसला तर्कसंगत नहीं- सुप्रीम कोर्ट

9 नवम्बर 2019, 11:03 बजे

विवाद ढांचा तोड़ना कानून व्यवस्था तोड़ने जैसी हरकत

मंदिर गिराकर मस्जिद बनाने का पुरातत्व विभाग की रिपोर्ट में कोई जिक्र नहीं 

9 नवम्बर 2019, 11:01 बजे

अंग्रेजों के समय 18वीं सदी तक यहां नमाज होने का कोई सबूत नहीं मिलता है- सुप्रीम कोर्ट

9 नवम्बर 2019, 11:00 बजे

मुस्लिम पक्ष कब्जा साबित करने में नाकाम रहा है- सुप्रीम कोर्ट

9 नवम्बर 2019, 10:59 बजे

विदेशियों के लेखों में भी सीता रसोई और परिक्रमा का जिक्र आया है- सुप्रीम कोर्ट

12वीं से 16वीं शताब्दी तक क्या था, इसका कोई जिक्र नहीं है

 

9 नवम्बर 2019, 10:55 बजे

आस्था और विश्वास के आधार पर मालिकाना हक का फैसला नहीं हो सकता, कानूनी आधार पर मालिकाना हक का फैसला होगा- सुप्रीम कोर्ट

9 नवम्बर 2019, 10:53 बजे

हिंदुओं का मानना है कि गुंबदों के नीचे के स्थल पर ही भगवान राम का जन्म हुआ था. यह एक विश्वास का मामला है

 

9 नवम्बर 2019, 10:51 बजे

हिंदुओं का विश्वास है कि उसी स्थान पर भगवान राम पैदा हुए थे, इस विश्वास पर सवाल नहीं उठाया जा सकता

 

9 नवम्बर 2019, 10:49 बजे

पुरातत्व विभाग को अपनी खुदाई में 12वीं सदी के धार्मिक स्थल के अवशेष मिले, जो कि इस्लामिक नहीं थे- सुप्रीम कोर्ट

9 नवम्बर 2019, 10:47 बजे

पुरातत्व विभाग ने अपनी खुदाई में मस्जिद मिलने की बात नहीं कही

आर्कियोलोजिकल सर्वे ऑफ इंडिया की रिपोर्ट में इस्लामिक ढांचा मिलने का जिक्र नहीं

राम जन्मभूमि है या नहीं इस बात स्पष्ट नहीं-पुरातत्व विभाग

 

 

 

9 नवम्बर 2019, 10:44 बजे

बाबरी मस्जिद खाली जमीन पर नहीं बनी बनी थी

पुरातत्व विभाग ने अपनी रिपोर्ट में मंदिर होने की बात कही थी

9 नवम्बर 2019, 10:43 बजे

खुदाई में मिले सबूतों की अनदेखी नहीं की जा सकती है- सुप्रीम कोर्ट

9 नवम्बर 2019, 10:42 बजे

निर्मोही अखाड़े की याचिका लिटिगेशन से बाहर, निर्मोही अखाड़े को सेवायत का अधिकार नहीं- सुप्रीम कोर्ट

9 नवम्बर 2019, 10:39 बजे

निर्मोही अखाड़े की याचिका भी सुप्रीम कोर्ट से खारिज हो गई

9 नवम्बर 2019, 10:38 बजे

मुख्य न्यायाधीश ने फैसला सुनाना शुरु किया

बाबर के दौर में मस्जिद बनाई गई- रंजन गोगोई, मुख्य न्यायाधीश

1949 में दो मूर्तियां रखी गईं- रंजन गोगोई, मुख्य न्यायाधीश

बाबर के समय में मीर बाकी ने मस्जिद बनवाई- रंजन गोगोई, मुख्य न्यायाधीश

9 नवम्बर 2019, 10:34 बजे

जजों ने फैसले पर दस्तखत करना शुरु किया, मुख्य न्यायाधीश ने फैसले से पहले शांति बरकरार रखने की अपील की. 

मुख्य न्यायाधीश ने कहा फैसला सुनाने में सिर्फ 30 मिनट का समय लूंगा

9 नवम्बर 2019, 10:33 बजे

राम मंदिर- बाबरी मस्जिद विवाद पर फैसला सुनाने के लिए संवैधानिक बोर्ड के सभी सदस्य न्यायालय पहुंचे, फैसला सुनाया जाना शुरु हो गया है. 

 

शिया वक्फ बोर्ड की याचिका खारिज हो गई है

9 नवम्बर 2019, 10:29 बजे

केन्द्रीय गृह सचिव अजय भल्ला गृहमंत्री अमित शाह के साथ मुलाकात करने के लिए उनके घर पर पहुंचे. दोनों के बीच राम मंदिर पर फैसले के बाद सुरक्षा व्यवस्था की स्थिति पर चर्चा होगी.

 

9 नवम्बर 2019, 10:26 बजे

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद अयोध्या मामले पर पूरी नजर रखे हुए हैं. वह इस समय यूपी पुलिस के कंट्रोल रुम में खुद मौजूद हैं और राज्य की कानून और व्यवस्था पर नजर बनाए हुए हैं...

9 नवम्बर 2019, 10:20 बजे

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई अदालत पहुंचे, थोड़ी देर में शुरु करेंगे राम मंदिर पर फैसला सुनाना

 

 

9 नवम्बर 2019, 09:33 बजे

अयोध्या विवाद पर फैसले से पहले आगरा औऱ अलीगढ़ में इंटरनेट सेवाएं बंद की गईं

9 नवम्बर 2019, 09:31 बजे

हरियाणा, जम्मू कश्मीर और मुंबई में धारा 144 लागू

 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश में शांति और व्यवस्था बनाए रखने की अपील की

 

अयोध्या मामले पर फैसला कुछ भी आए, लेकिन देश में शांति और व्यवस्था बहाल रहनी चाहिए- ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड

9 नवम्बर 2019, 09:29 बजे

राम मंदिर- बाबरी मस्जिद विवाद पर फैसला आने पर सिर्फ एक घंटे का वक्त बचा है. अगले एक घंटे में पिछले 500 साल पुराने विवाद पर फैसला आ जाएगा. 

9 नवम्बर 2019, 09:26 बजे

उत्तर प्रदेश के स्कूल और कॉलेज 11 नवंबर तक के लिए बंद रखे गए हैं. 

 

सुप्रीम कोर्ट के बाहर अर्द्धसैनिक बल तैनात किए गए हैं. 

 

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई को Z सिक्योरिटी दी गई

 

अलीगढ़ में इंटरनेट सेवा रोकी गई

 

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद किसी तरह के जश्न या प्रदर्शन की इजाजत नहीं है

 

 

9 नवम्बर 2019, 09:21 बजे

उत्तर प्रदेश पुलिस के एडीजी आशुतोष पांडेय ने जानकारी दी है कि अयोध्या में अर्द्धसैनिक बलों, रैपिड एक्शन फोर्स और पीएसी की 60 कंपनियां तैनात की गई हैं. इसके अलावा पुलिस के 1200 कांस्टेबल, 250 सब इंस्पेक्टर, 20 डीएसपी और 2 पुलिस अधीक्षक तैनात किए गए हैं. द्विस्तरीय बैरिकेडिंग की गई है और सार्वजनिक सूचना व्यवस्था की व्यवस्था की गई है. चारो तरफ नजर बनाए रखने के लिए 35 सीसीटीवी कैमरे और 10 ड्रोन कैमरे लगाए गए हैं. 

 

9 नवम्बर 2019, 09:04 बजे

दिल्ली पुलिस के ज्वाइंट कमिश्नर ऑफ पुलिस आईडी शुक्ला ने जानकारी दी है कि राम मंदिर पर फैसले से पहले अर्द्धसैनिक बलों की मदद से राष्ट्रीय राजधानी की सुरक्षा व्यवस्था बेहद कड़ी कर दी गई है. सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट की सुरक्षा व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है. 

 

9 नवम्बर 2019, 08:59 बजे

रामजन्म भूमि न्यास समिति ने अपनी सभी सदस्यों को आज अयोध्या में ही मौजूद रहने के लिए कहा है. लगभग 12-15 साधु संत इस समिति में हैं. महंत नृत्य गोपालदास रामजन्म भूमि न्यास समिति के अध्यक्ष हैं. साधु संत लगातार शांति बनाए रखने की अपील कर रहे हैं

 

9 नवम्बर 2019, 08:54 बजे

राम मंदिर-बाबरी मस्जिद विवाद पर फैसला आने से पहले सुप्रीम कोर्ट की सुरक्षा व्यवस्था बेहद कड़ी कर दी गई है. सर्वोच्च अदालत और उसके आस पास धारा 144 लगा दी गई है. पुलिस के साथ अर्द्धसैनिक बलों के जवान भी अदालत की सुरक्षा के लिए तैनात किए गए हैं. 

 

9 नवम्बर 2019, 08:51 बजे

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत दिल्ली पहुंचे, संघ के कई वरिष्ठ नेता दिल्ली के उदासीन आश्रम में डेरा डाले हुए हैं. इसके पहले हरिद्वार में होने वाली संघ के अनुषांगिक संगठनों की बड़ी बैठक स्थगित कर दी गई थी. जिसके बाद से संघ के कई बड़े पदाधिकारी लगातार दिल्ली में डेरा डालकर बैठे हुए हैं. 

 

आरएसएस के सूत्रों ने जानकारी प्रदान की है कि राम मंदिर-बाबरी मस्जिद विवाद पर फैसला आने के बाद संघ प्रमुख(सरसंघचालक) मोहन भागवत जी दोपहर 1.00 बजे मीडिया को संबोधित करेंगे.

 

 

9 नवम्बर 2019, 08:47 बजे

अयोध्या में अर्द्ध सैनिक बलों की तैनाती की गई है. विश्वास बहाली के उपाय किये जा रहे हैं. खुफिया विभाग सतर्क है, असामाजिक तत्वों पर बारीकी से नजर रखी जा रही है.

 

 

9 नवम्बर 2019, 08:41 बजे

सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले उत्तर प्रदेश में कानून और व्यवस्था को संभाले रखने की तैयारियां दुरुस्त कर ली गई हैं. राज्य में पुलिस हाई अलर्ट पर है, अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती कर दी गई है. पूरे राज्य में धारा 144 लागू है- ओपी सिंह, डीजीपी, उत्तर प्रदेश

9 नवम्बर 2019, 08:39 बजे

40 दिनों की सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट आज सुनाएगा राम मंदिर पर अपना फैसला, पूरे देश में हाई अलर्ट की स्थिति, अयोध्या में चार पहिया वाहनों पर प्रतिबंध

9 नवम्बर 2019, 08:34 बजे

सुप्रीम कोर्ट की संवैधानिक पीठ आज सुबह 10.30 बजे बाबरी मस्जिद-राम मंदिर विवाद पर सुनाएगी अपना फैसला