CAA के खिलाफ ममता ने किया प्रदर्शन, मैंगलोर हिंसा में मृतकों को देंगी 5 लाख

नागरिकता कानून के खिलाफ ममता बनर्जी ने कोलकाता में विरोध प्रदर्शन की अगुवाई की. उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि वो मैंगलोर हिंसा में मारे गये लोगों को पांच लाख की सहायता राशि देंगी.

 CAA के खिलाफ ममता ने किया प्रदर्शन, मैंगलोर हिंसा में मृतकों को देंगी 5 लाख

कोलकाता: कोलकाता में नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के विरोध प्रदर्शन के दौरान पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कहा है कि मंगलुरु में विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा में जान गंवाने वालों के परिवारों को 5 लाख रुपये का चेक देंगे. ममता बनर्जी मोदी सरकार के खिलाफ लगातार CAA पर प्रदर्शन कर रही हैं और सरकार पर निशाना साध रही हैं. 

मैंगलोर की घटना पर बोलीं ममता बनर्जी

मैंगलोर की घटना पर ममता बनर्जी ने कहा कि तीन-चार दिन पहले कुछ लोग कर्नाटक में हुई हिंसा में मारे गए थे. आजादी के संघर्ष के बाद से अभी तक ऐसा नहीं हुआ, सिर्फ बीजेपी के राज में पुलिस फायरिंग में लोग मारे जा रहे हैं. अगर आप किसी को कुछ देना चाहते हैं, तो रोटी-कपड़ा-मकान दीजिए. बता दें कि  कर्नाटक में गुरुवार को कई जगहों पर प्रदर्शन के दौरान हिंसा हुई. इस दौरान 2 लोगों की मौत हो गई.  ममता बनर्जी ने राजबाजार में कहा कि जब महात्मा गांधी ब्रिटिशों के खिलाफ लड़े तो शांतिपूर्ण तरीके से लड़े थे, आज बीजेपी सभी प्रदर्शनकारियों की आवाज़ को दबाना चाहती है. 

गुरुवार को हुआ था प्रदर्शन

गुरुवार को बेंगलुरु में विरोध प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस पूरी तरह से मुस्तैद नजर आई. ग्रामीण इलाकों समेत बेंगलुरु शहर में धारा 144 लागू की गई थी, जो कि सुबह 6 बजे ही लागू थी. सुबह ही राज्य के मुख्यमंत्री बीएस. येदियुरप्पा ने बड़े अधिकारियों के साथ मिलकर बैठक भी की थी. बता दें कि कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, बिहार, बंगाल में नागरिकता कानून के खिलाफ देश भर विपक्ष विरोध प्रदर्शन कर रहा है. इसमें दिल्ली समेत कई जगहों पर हिंसा भी हुई और कई लोगों को जान भी गंवानी पड़ी.

मुंबई में फिल्म स्टारों ने किया प्रदर्शन

मुंबई में गुरुवार को नागरिकता कानून को लेकर दो प्रदर्शन हुए. एक प्रदर्शन उन लोगों द्वारा किया जा रहा है, जो नागरिकता कानून के पक्ष में हैं, तो वहीं दूसरा प्रदर्शन वे लोग कर रहे हैं जो इस कानून के खिलाफ हैं. इस प्रदर्शन रैली को मुंबई के अगस्त क्रांति मैदान में आयोजित किया गया, जिसमें फरहान अख्तर से लेकर जोया अख्तर, हुमा कुरैशी और सुशांत सिंह शामिल हुए.

ये भी पढ़ें- सेना प्रमुख बोले- जो सही नेतृत्व दे वही नेता