आंतकवाद से लेकर अफगानिस्तान तक हर मुद्दे पर बोले पीएम मोदी, जानिये संबोधन की बड़ी बातें

पीएम मोदी ने संयुक्त राष्ट्र में अपने संबोधन के दौरान कोरोना और अफगानिस्तान समेत तमाम घटनाओं का जिक्र किया. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Sep 25, 2021, 07:15 PM IST
  • पीएम मोदी ने पाकिस्तान का नाम लिये बिना साधा निशाना
  • तालिबान और कोरोना महामारी पर भी रखी अपनी बात

ट्रेंडिंग तस्वीरें

आंतकवाद से लेकर अफगानिस्तान तक हर मुद्दे पर बोले पीएम मोदी, जानिये संबोधन की बड़ी बातें

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र के मंच से पूरी दुनिया को सख्त संदेश दिया और मजबूती से भारत का पक्ष रखा. उन्होंने आतंकवाद और कट्टरपंथ समेत तमाम बड़ी बातों पर चर्चा की और इन मुद्दों पर भारत का पक्ष मजबूती से रखा. 

अफगानिस्तान का प्रयोग आतंक के लिये न हो- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने संयुक्त राष्ट्र में अपने संबोधन के दौरान अफगानिस्तान की घटनाओं का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि दुनिया के सभी देशों को ये ध्यान रखना होगा कि अफगानिस्तान को उपयोग कोई भी देश आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिये न करे. 

पीएम मोदी ने कहा कि गत डेढ़ वर्ष से पूरा विश्व, 100 साल में आई सबसे बड़ी महामारी का सामना कर रहा है. ऐसी भयंकर महामारी में जीवन गंवाने वाले सभी लोगों को मैं श्रद्धांजलि देता हूं और परिवारों के साथ अपनी संवेदनाएं व्यक्त करता हूं. 

उन्होंने भारत के विकास का जिक्र करते हुए कहा कि विकास, सर्वसमावेशी हो, सर्व-पोषक हो, सर्व-स्पर्शी हो, सर्व-व्यापी हो, ये हमारी प्राथमिकता है. 

संयुक्त राष्ट्र महासभा में पाकिस्तान का बिना नाम लिए हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीखा हमला बोला. उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि जो आतंकवाद का इस्तेमाल कर रहे हैं, उनके लिए भी खतरा बना हुआ है. दुनिया के सभी देश इस बात का ख्याल रखें कि कोई भी देश अफगानिस्तान की धरती का उपयोग अपना आंतकी हित साधने के लिये न करे. 

पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना महामारी ने विश्व को ये भी सबक दिया है कि वैश्विक अर्थव्यवस्था को अब और अधिक समावेशी किया जाए. इसके लिए वैश्विक मूल्यों का विस्तार आवश्यक है. हमारा आत्मनिर्भर भारत अभियान इसी भावना से प्रेरित है.

पीएम मोदी ने कहा कि बीते 7 वर्षों में भारत में 43 करोड़ से ज्यादा लोगों को बैंकिंग व्यवस्था से जोड़ा गया है. 36 करोड़ से अधिक ऐसे लोगों को बीमा कवच मिला है जो पहले इस बारे में सोच भी नहीं सकते थे. 50 करोड़ से ज्यादा लोगों को मुफ्त इलाज का लाभ देकर उन्हें क्वालिटी हेल्थ से जोड़ा है.

पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना महामारी ने दुनिया को सिखाया है कि वैश्विक अर्थव्यवस्था को और विविधतापूर्ण बनाया जाए, इसलिए वैश्विक मूल्य श्रृंखलाओं का विस्तार बहुत महत्वपूर्ण है. 

हमारा 'आत्मनिर्भर भारत अभियान' इसी भावना से प्रेरित है. स्वतंत्रता के 75 वर्ष के अवसर पर भारत भारतीय छात्रों द्वारा बनाए गए 75 उपग्रहों को अंतरिक्ष में लॉन्च करने जा रहा है.

ये भी पढ़ें- IND vs ENG: सीरीज में बढ़त लेकर भी भारत को नहीं मिली ट्रॉफी, बचे 1 टेस्ट पर BCCI का बड़ा फैसला

संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया के सामने चरमपंथ का खतरा बढ़ता जा रहा है. वैज्ञानिक दृष्टिकोण, प्रगतिवादी सोच को बढ़ाना जरूरी हो गया है. 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूएनजीए में कहा कि सेवा परमो धर्म: के तहत भारत वैक्सीनेशन में जुटा हुआ है. भारत ने दुनिया की पहली डीएनए आधारित वैक्सीन का निर्माण कर लिया है. साथ ही फिर से वैक्सीन का एक्सपोर्ट भी शुरू हो चुका है.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़