मानव तस्करी के आरोप में तीन रोहिंग्या गिरफ्तार, यूपी ATS ने पकड़ा

ADG कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया की एटीएस को पता चला था की ये तीनों एक गिरोह बनाकर बांग्लादेश और म्यांमार के नागरिकों को विशेष रूप से महिलाओं और बच्चों को फर्जी दस्तावेज तैयार कर भारत के अलग-अलग राज्यों से और एनसीआर के क्षेत्रों  जैसे गाजियाबाद नोएडा और दिल्ली में बसाने का काम करते थे.

Written by - Tushar Srivastava | Last Updated : Jul 27, 2021, 03:51 PM IST
  • पुलिस ने ले जाई जा रही 2 नाबालिग लड़कियां की बरामद
  • गाजियाबाद रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किए गए तीनों आरोपी
मानव तस्करी के आरोप में तीन रोहिंग्या गिरफ्तार, यूपी ATS ने पकड़ा

लखनऊः यूपी ATS ने रोहिंग्या कनेक्शन के जरिए मानव तस्करी का भंडाफोड़ किया है. जानकारी के मुताबिक,  यूपी ATS ने 3 बांग्लादेशी और म्यामांर के रहने वाले रोहंग्याओं को गाजियाबाद रेलवे स्टेशन से किया गिरफ्तार किया है. आरोप है कि तीनों ही मानव तस्करी में लिप्त थे.

पुलिस ने तस्करी के लिए ले जाए जा रहे 2 नाबालिग लड़कियां और 1 अन्य को भी बरामद किया है. आरोपियों की पहचान मोहम्मद नूर उर्स नुरुल इस्लाम, निवासी काश बाजार बांग्लादेश, रहमतुल्ला निवासी मंगलू म्यांमार शफीउल्लाह निवासी मोंगडू म्यामार है.

ADG ने दी जानकारी

ADG कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया की एटीएस को पता चला था की ये तीनों एक गिरोह बनाकर बांग्लादेश और म्यांमार के नागरिकों को विशेष रूप से महिलाओं और बच्चों को फर्जी दस्तावेज तैयार कर भारत के अलग-अलग राज्यों से और एनसीआर के क्षेत्रों  जैसे गाजियाबाद नोएडा और दिल्ली में बसाने का काम करते थे. पूछताछ में तीनों ने बताया की ये लड़कियों को शादी का झांसा और पुरुषों को नौकरी का झांसा देकर भारत लाते थे. 

नाबालिग को जा रहे थे बेचने

इसके बाद इन्हें विदेशो में बेच देते थे. जब इनकी गिरफ्तारी हुई तो यह तीनों ट्रेन से दो नाबालिग लड़कियों और एक आदमी को लेकर बेचने के लिए जा रहे हैं. मुखबिर की सूचना के बाद एटीएस ने गाजियाबाद स्टेशन पर उनको ट्रेन से बाहर उतारा और जब इनसे कड़ाई से पूछताछ की गई तो इन्होंने अपने मंसूबों के बारे में बताया जिसके बाद ATS ने तीनो को जेल भेज दिया है और बरामद दोनो नाबालिक लड़कियों को आशा ज्योति केंद्र भेज दिया है. 

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़