Yogi Cabinet Expansion: 25 महीने बाद कैबिनेट विस्तार करके भाजपा ने साधे एक तीर से कई निशाने

राज्य की योगी सरकार ने ठीक 25 महीने बाद फिर से मंत्रिमंडल विस्तार करके बड़ा संदेश दिया. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Sep 26, 2021, 09:15 PM IST
  • योगी कैबिनेट में 7 नये मंत्री शामिल
  • लंबे समय से थी मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चा
Yogi Cabinet Expansion: 25 महीने बाद कैबिनेट विस्तार करके भाजपा ने साधे एक तीर से कई निशाने

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में 4 महीने बाद विधानसभा चुनाव होने हैं और अनुमान है कि जनवरी की शुरुआत में ही मतदान की तारीखों का ऐलान हो सकता है. सभी सियासी दल अपनी अपनी जमीन मजबूत करने में जुटे हैं.

राज्य की योगी सरकार ने ठीक 25 महीने बाद फिर से मंत्रिमंडल विस्तार करके बड़ा संदेश दिया. 

योगी कैबिनेट में 7 नये मंत्री शामिल

यूपी मंत्रिमंडल में एक कैबिनेट मंत्री और छह राज्यमंत्रियों के रूप में सात नए चेहरों को को जगह मिली है. 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले हुए विस्तार में पिछड़े, दलित वर्ग को प्रतिनिधित्व देकर सामाजिक समीकरण को साधा है. इसके अलावा पश्चिमी यूपी और पूर्वांचल को जगह देकर क्षेत्रीय संतुलन बनाने की कोशिश गई है.

सभी जातियों को प्रतिनिधित्व देने की कोशिश

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने सबसे पहले कैबिनेट मंत्री के रूप में जितिन प्रसाद को शपथ दिलाई. जितिन प्रसाद को कैबिनेट मंत्री बनाया गया है. जितिन हाल ही में भाजपा में शामिल हुए हैं. वे मनमोहन सिंह की केंद्र सरकार में मंत्री रह चुके हैं. 

राज्यमंत्री के रूप में छत्रपाल गंगवार (कुर्मी), पलटूराम (जाटव), संगीता बलवंत बिंद (निषाद), संजीव कुमार गोंड (अनुसूचित जनजाति), दिनेश खटीक (सोनकर), धर्मवीर प्रजापति (प्रजापति समाज), छत्रपाल सिंह गंगवार (कुर्मी) को राज्यपाल ने पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई.

लंबे समय से थी मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चा 

यूपी में लंबे समय से चल रही योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल के विस्तार की चर्चा पर आज विराम लग गया. जून तथा जुलाई में चर्चा ने जोर पकड़ा तो अगस्त के अंतिम हफ्ते में मंत्रियों के नाम के साथ ही शपथ लेने की तारीख भी तय होने लगी थी.

मंत्रिमंडल विस्तार में एक ब्राह्मण मंत्री जितिन प्रसाद सहित छह अन्य विधायकों को शपथ दिलाई गई है. ये छह लोग एससी-ओबीसी जाति वर्ग से आते हैं.

पूरा हुआ योगी मंत्रिमंडल का कोटा

प्रदेश सरकार के रविवार को हुए मंत्रिमंडल विस्तार के बाद मंत्रिमंडल के 60 सदस्यों की संख्या पूरी हो गई. योगी सरकार में अब 24 कैबिनेट मंत्री, 9 राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार, 27 राज्यमंत्री हैं.

ये भी पढ़ें- टी20 क्रिकेट में विराट कोहली ने किया ये बड़ा कारनामा, बने पहले भारतीय

पिछली बार 2019 में हुआ था विस्तार

उल्लेखनीय है कि योगी सरकार में मंत्रिमंडल का पहला विस्तार 22 अगस्त 2019 को हुआ था. उसय समय मंत्रिमंडल की सदस्य संख्या 56 हुई थीं. उसमें 25 कैबिनेट, 9 राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार और 22 राज्यमंत्री थे.

बीते डेढ़ वर्ष में कोरोना संक्रमण से कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान, कमला रानी वरुण और राज्यमंत्री विजय कश्यप का निधन होने से तीन पद खाली हो गए थे.

दिवंगत कमला रानी वरुण के निधन के बाद गाजीपुर विधायक डॉ. संगीता बलवंत बिंद को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है. नीमिला कटियार, स्वाति सिंह और गुलाब देवी पहले से मंत्रिमंडल में शामिल हैं.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़