रेल यात्रियों को प्राणवायु देने के लिए नासिक रेलवे की शानदार स्कीम

 मुबंई के नासिक रेलवे स्टेशन पर यात्रियों को स्वच्छ व साफ हवा पहुंचाने के लिए भारतीय रेलवे ने एयरो गार्ड के साथ मिलकर एक नई पहल शुरू की है. 

रेल यात्रियों को प्राणवायु देने के लिए नासिक रेलवे की शानदार स्कीम

मुबंई: इन दिनों भारतीय रेलवे यात्रियों की यात्रा को और भी अधिक सुविधाजनक बनाने के लिए कुछ न कुछ लगातार करती जा रही है. एक बार फिर वायु प्रदूषण को देखते हुए महाराष्ट्र के नासिक रेलवे स्टेशन पर ऑक्सीजन पार्लर शुरू किया गया है. 

चीन- ब्राजील ने एक साथ किया प्रक्षेपण, अमेजन के जंगलों पर रखेंगे नजरें लिंक पर क्लिक कर जाने पूरी खबर.

क्या है स्कीम और कहां से आया आइडिया?

 

ऑक्सीजन पार्लर शुरू करने की वजह है रेल से सफर करने वालों को शुद्ध हवा सांस लेने के लिए मिल सके. इस पहल में भारतीय रेलवे के साथ एयरो गार्ड ने भी सहयोग किया है. एयरो गार्ड के सह-संस्थापक ने कहा कि ऑक्सीजन पार्लर की स्थापना नेशनल एरोनॉटिक्स एंड एडमिनिस्ट्रेशन की सिफारिश पर आधारित है. इसके पीछे की वजह बताया गया कि नासा द्वारा की गई एक अध्ययन को बताया गया. 1989 में नासा ने एक अध्ययन में कुछ ऐसे पौधों की पहचान की थी जो हवा में मौजूद हानिकारक प्रदूषकों को अवशोषित कर स्वच्छ हवा को छोड़ती है जो स्वास्थ के लिए लाभदायक होता है. नासा ने इस तरह के पांच पौधों का पता लगाया था.

बढ़ते हुए प्रदूषण को देखते हुए अपनाए खेती की यह नई तकनीक,लिंक पर क्लिक कर जाने खबर.

कैसे होगा यात्रियों को फायदा?

महाराष्ट्र के नासिक रेलवे स्टेशन पर इन्हीं पौधों को लगाया गया है जिससे लोगों को स्वच्छ व साफ हवा सांस लेने के लिए मिल सके. ये पौधे अपने आसपास के 10*10  फीट के क्षेत्र तक के हवा को साफ कर सकता है. जिसके तहत लगभग 1500 पौधे लगाए गए हैं. जो रेलवे व उसके आसपास के क्षेत्रों के हवा में मौजूद प्रदूषक पर्दाथों को खत्म कर, वायु की गुणवत्ता में सुधार करने में मददगार साबित होगा.