दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले खिलाड़ियों में 'डर', कोहली ने बयां किया टीम का दर्द

ओमिक्रोन वैरिएंट के खतरे के कारण टीम इंडिया के दौरे पर संकट के बादल छा गए हैं. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 2, 2021, 05:55 PM IST
  • BCCI से बात कर रहे कोच द्रविड़
  • घटाया जा सकता है दक्षिण अफ्रीका दौरा

ट्रेंडिंग तस्वीरें

दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले खिलाड़ियों में 'डर', कोहली ने बयां किया टीम का दर्द

मुंबई: भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टीम के दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले बड़ी बात कही है. ओमिक्रोन वैरिएंट के खतरे के कारण टीम इंडिया के दौरे पर संकट के बादल छा गए हैं. 

इस बीच कप्तान कोहली ने गुरुवार को कहा कि उन्हें दक्षिण अफ्रीका के आगामी दौरे को लेकर अगले कुछ दिन में भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) की तरफ से तस्वीर साफ होने की उम्मीद है और वह नहीं चाहते कि कोरोना वायरस के नए स्वरूप ओमीक्रोन के आने के बाद ‘भ्रम’ की स्थिति हो. 

BCCI से बात कर रहे कोच द्रविड़

समझा जा रहा है कि मुख्य कोच राहुल द्रविड़ ने समूह के भीतर बातचीत शुरू की है और वह खिलाड़ियों को भी जानकारी दे रहे हैं कि प्रशासनिक स्तर पर क्या चल रहा है. न्यूजीलैंड के खिलाफ शुक्रवार से यहां शुरू हो रहे दूसरे और अंतिम टेस्ट से एक दिन पहले मीडिया से बातचीत में कोहली ने कहा कि आप जितना जल्दी संभव हो इस मामले में स्पष्टता चाहते हो, इसलिए हमने टीम के सभी सीनियर खिलाड़ियों से बात की है. 

उन्होंने कहा कि बेशक राहुल भाई (द्रविड़) ने समूह के भीतर बातचीत शुरू की है जो काफी महत्वपूर्ण है. अंत में हम समझ सकते हैं, मेरे कहने का मतलब है कि कुछ भी हो, हमारा ध्यान टेस्ट मैच से नहीं भटकेगा लेकिन साथ ही आप स्पष्टता चाहते हो और आप ऐसी स्थिति में होना चाहते हो जहां आपको पता होना चाहिए कि असल में क्या हो रहा है.

घटाया जा सकता है दक्षिण अफ्रीका दौरा 

इस तरह की चर्चा है कि नए स्वरूप के कारण डर को देखते हुए दौरे को कुछ समय के लिए टाला जा सकता है या इसमें कटौती की जा सकती है. कोहली ने कहा कि अगले दो दिन में सारी चीजें स्पष्ट हो जाएंगी. 

उन्होंने कहा कि हम बोर्ड से बात कर रहे हैं और हमें भरोसा है कि एक या दो दिन में या बहुत जल्दी तस्वीर साफ हो जाएगी कि क्या चल रहा है. कप्तान ने कहा कि ये सामान्यत समय नहीं है और कोई भी फैसला करते हुए इसे भी ध्यान में रखना होगा. 

उन्होंने कहा ,‘‘देखिए यह स्वाभाविक है, मेरे कहने का मतलब है कि हम सामान्य हालात में नहीं खेल रहे हैं, इसलिए काफी योजना बनानी पड़ती है, काफी तैयारी करनी पड़ती हैं.’’ 

ओमीक्रोन स्वरूप का पता चलने के बाद दक्षिण अफ्रीका पर कई देशों ने यात्रा संबंधी प्रतिबंध लगाए हैं. भारत की ‘ए’ टीम हालांकि ब्लोमफोंटेन में तीन मैचों की प्रथम श्रेणी श्रृंखला खेल रही है. दक्षिण अफ्रीका की सरकार ने भारतीय टीम के वहां पहुंचने पर पूरी तरह से सुरक्षित बायो-बबल (जैविक रूप से सुरक्षित माहौल) बनाने का वादा किया है. 

17 दिसंबर से शुरू होने हैं मैच

भारत की सीनियर टीम को 17 दिसंबर से लगभग सात हफ्ते के दौरे पर दक्षिण अफ्रीका जाना है. टीम को चार स्थलों जोहानिसबर्ग, सेंचुरियन, पार्ल और केपटाउन में तीन टेस्ट, तीन एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय और चार टी20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले खेलने हैं. 

भारतीय टीम का बायो-बबल मुंबई में शुरू हो जाएगा और रोहित शर्मा, लोकेश राहुल, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह जैसे खिलाड़ी आठ दिसंबर में टीम की रवानगी से एक या दिन दिन पहले इससे जुड़ जाएंगे. 

ये भी पढ़ें- पुजारा और कोहली के लिए राहत भरी खबर, 5 साल बाद वानखेड़े में लौट रहा अनोखा दौर

कोहली ने कहा कि कुछ ऐसे खिलाड़ी हैं जो अभी समूह का हिस्सा नहीं हैं जो पृथकवास में प्रवेश करने के बाद बायो बबल में टीम से जुड़ेंगे. चार्टर्ड विमान से यात्रा होगी. कोहली को उम्मीद है कि जब उनका ध्यान न्यूजीलैंड के खिलाफ मुकाबले पर होगा तब बीसीसीआई उन्हें बताएगा कि भविष्य की योजना क्या है. 

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़