कोहली ने पुजारा के साथ फिर निभाई दोस्ती, तीसरी बार बनाया ये रिकॉर्ड

पुजारा 2017 के बाद से भारतीय सरजमीं पर शतक नहीं जमा सके हैं. न्यूजीलैंड के खिलाफ मुंबई में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में वे बिना खाता खोले आउट हो गए.   

Written by - Adarsh Dixit | Last Updated : Dec 4, 2021, 06:24 AM IST
  • 2018 में भी दोनों एक ही पारी में शून्य पर आउट हुए थे
  • अब चेतेश्वर पुजारा के करियर पर उठने लगे हैं सवाल

ट्रेंडिंग तस्वीरें

कोहली ने पुजारा के साथ फिर निभाई दोस्ती, तीसरी बार बनाया ये रिकॉर्ड

नई दिल्ली: भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के पहले दिन विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा एक साथ शून्य पर आउट हो गए. टेस्ट क्रिकेट में ऐसी कई बार हो चुका है तब ये दोनों खिलाड़ी एक ही पारी में एक साथ जीरो पर चलते बने.

पिछले 7 साल में तीसरी बार शून्य पर गंवाया विकेट
यह पिछले सात साल में तीसरी बार है जब दोनों एक ही टेस्ट की एक ही पारी में शून्य पर आउट हुए हों. पुजारा और कोहली पहली बार 2014 में ओल्ड-ट्रैफर्ड में इंग्लैंड के खिलाफ एक ही पारी में शून्य पर आउट हुए थे. 

तब इंग्लिश टीम ने भारत को इस टेस्ट में शिकस्त दी थी. इसके बाद 2018 में मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में भी दोनों एक ही पारी में शून्य पर आउट हुए.

10वीं बार शून्य पर आउट हुए पुजारा
चेतेश्वर पुजारा 10वीं बार टेस्ट क्रिकेट में शून्य पर आउट हुए. उनके करियर पर भी सवाल उठने लगे हैं. पुजारा 2017 के बाद से भारतीय सरजमीं पर शतक नहीं जमा सके हैं. न्यूजीलैंड के खिलाफ मुंबई में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में वे बिना खाता खोले आउट हो गए. पांच गेंदों का सामना करने के बाद एजाज पटेल की गेंद पर वे बोल्ड हो गए.

41 पारियों से नहीं लगा सके शतक
होम और अवे दोनों टेस्ट को मिला लिया जाए तो 41 पारियों से वे शतक नहीं लगा पाए हैं. पुजारा ने आखिरी शतक ऑस्ट्रेलिया में 2019 में बनाया था तब उनके बल्ले से 193 रन निकले थे. 

भारत के लिए ही नहीं बल्कि दुनिया भर में नंबर 3 पर बल्लेबाजी करते हुए सबसे ज्यादा पारियां बिना शतक के खेलने वाले बल्लेबाज पुजारा बन गए हैं. लगातार 40 पारियों में नंबर 3 पर बल्लेबाजी करते हुए पुजारा शतक नहीं जड़ सके हैं.

वे अजीत वाडेकर से आगे निकल गए हैं. वाडेकर ने बिना शतक के 39 पारियों नंबर 3 पर खेली थीं. इसके बाद एलिस्टर कैंपबेल का नाम आता है. उन्होंने 36, हबीबुल बशर ने 35 और बेवन कॉन्गडन ने 34 पारियां बिना सेंचुरी के खेलीं.

यह भी पढ़िएः मयंक अग्रवाल ने इन दो महान खिलाड़ियों को दिया सफलता का श्रेय

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़