close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अगले साल से इंटरनेट स्पीड पकड़ेगी रफ्तार

अंतरिक्ष अनुसंधान के क्षेत्र इसरो(ISRO) में हो रही नई खोज का लाभ आम जनता तक पहुंचने ही वाला है. अगले साल यानी 2020 में लोगों को बहुत तेज इंटरनेट मिलने की संभावना है. क्योंकि इसरो इसके लिए लगातार काम करने में जुटा हुआ है. 

अगले साल से इंटरनेट स्पीड पकड़ेगी रफ्तार
सुपर फास्ट इंटरनेट का सपना होगा सच

नई दिल्ली: धीमी गति का इंटरनेट(Internet) अक्सर आपको परेशान कर देता है. आपके मोबाइल या सिस्टम पर चल रहा वेट सिंबल आपको झुंझलाने पर मजबूर कर देता है. लेकिन इंटरनेट की स्पीड से नाखुश लोगों के लिए एक खुशखबरी है. 

दरअसल भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान परिषद यानी इसरो जल्दी ही जीसैट-11, जीसैट-29 और जीसैट-20 के जरिए तेज इंटरनेट(Internet) उपलब्ध कराने में सफल हो जाएगा. उम्मीद की जा रही है कि इसरो(ISRO) के इस कदम से उपभोक्ताओं को इंटनेट(Internet) की स्पीड 100 जीबीपीएस से ज्यादा मिल सकती है.  

इसरो(ISRO) के अध्यक्ष के.सिवन ने पिछले साल ही इस बारे में जानकारी दे दी थी. साल 2018 में उन्होंने तेलंगाना के संगारेड्डी जिले में एक शिक्षण संस्थान के दीक्षांत समारोह में भाषण देते हुए बताया था कि 

दुनिया के सबसे ज्यादा इंटरनेट(Internet) का इस्तेमाल करने वाले देशों में भारत दूसरा स्थान रखता है. लेकिन ब्रॉडबैंड स्पीड के मामले में भारत दुनिया भर में 76वें नंबर पर है। 

लेकिन घबराने की जरुरत नहीं है. क्योंकि इसरो अध्यक्ष ने इसका समाझान भी बताया है. 

इसरो(ISRO) की योजना के मुताबिक जीसैट-11, जीसैट-29 को लांच किया जा चुका है. जिनकी मदद से इंटरनेट उपभोक्ताओं को 100 जीबीपीएस से ज्यादा की स्पीड प्राप्त होने लगेगी।

आम तौर पर अंतरिक्ष अनुसंधान के बढ़ते हुए खर्च पर सवाल उठाए जाते हैं. लेकिन इसरो(ISRO) अध्यक्ष ने इंटनेट स्पीड बढ़ने की भविष्यवाणी करके यह स्पष्ट कर दिया है कि इसरो का काम आम आदमी की जिंदगी से जुड़ा हुआ है. 

आज देश में कम स्पीड वाले इंटरनेट(Internet) का रोना रोने वाले इसरो की वजह से ही हाई स्पीड इंटरनेट(Internet) का मजा उठा पाएंगे. लेकिन फिलहाल तो 100 जीबीपीएस की स्पीड अब भी सपने की ही तरह है. लेकिन जल्दी ही यह सपना भी सच हो जाएगा.