प्रमुख परमाणु वैज्ञानिक की मौत से हड़बड़ाहट में ईरान

ईरान के एक शीर्ष सुरक्षा अधिकारी ने सोमवार को आरोप लगाया था कि इजराइल ने इलेक्ट्रॉनिक उपकरण का इस्तेमाल कर दूर से ईरानी वैज्ञानिक की हत्या कर दी जिन्होंने 2000 के दशक में देश के सैन्य परमाणु कार्यक्रम की नींव रखी थी.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 1, 2020, 06:40 AM IST
  • वैज्ञानिक की हत्या से उबला ईरान
  • ईरान के भीतर चल रही उठापटक
  • ईरान के परमाणु कार्यक्रम से चिंतित था इजराइल
प्रमुख परमाणु वैज्ञानिक की मौत से हड़बड़ाहट में ईरान

नई दिल्ली: ईरान के परमाणु कार्यक्रमों की जिम्मेदारी संभालने वाले प्रमुख परमाणु वैज्ञानिक की हत्या की हत्या के बाद से ईरान सरकार हड़बड़ाहट में है. ईरान सरकार को कोई भी जवाब नहीं सूझ रहा है. कभी सरकार की ओर से इजराइल को जिम्मेदार बताया जाता है तो कभी अंतरराष्ट्रीय साजिश.

ईरान के एक शीर्ष सुरक्षा अधिकारी ने सोमवार को आरोप लगाया था कि इजराइल ने इलेक्ट्रॉनिक उपकरण का इस्तेमाल कर दूर से ईरानी वैज्ञानिक की हत्या कर दी जिन्होंने 2000 के दशक में देश के सैन्य परमाणु कार्यक्रम की नींव रखी थी.

वैज्ञानिक की हत्या से उबला ईरान

ईरान की सर्वोच्च राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के सचिव अली शामखानी ने वैज्ञानिक मोहसिन फख्रीजादा की तदफीन (दफन करने) के दौरान टिप्पणी की है कि इजरायल ने उसके वैज्ञानिक की हत्या की है. इसी दौरान ईरान के रक्षा मंत्री आमिर हातमी ने वैज्ञानिक के काम को तेजी से आगे बढ़ाने का संकल्प लिया.

ईरान के भीतर चल रही उठापटक

आपको बता दें कि वैज्ञानिक मोहसिन फखरिजादे की हत्या शुक्रवार को तेहरान के पास उनके सुरक्षाकर्मियों और अज्ञात बंदूकधारियों के बीच हुई गोलीबारी में मारे गए थे. सोमवार 30 नवंबर को उनका अंतिम संस्कार होना है. उनकी हत्या पर रोष प्रकट करते हुए ईरान की संसद ने देश के परमाणु कार्यक्रम से जुड़े स्थलों पर अंतरराष्ट्रीय निरिक्षण रोकने की मांग की है. देश के एक उच्च अधिकारी ने यह भी सुझाया है कि ईरान को वैश्विक परमाणु प्रसार निरोध संधि को छोड़ देना चाहिए.

क्लिक करें- राजधानी को 'बंधक' बनाने का प्लान! किसानों को कौन उकसा रहा है?

ईरान के परमाणु कार्यक्रम से चिंतित था इजराइल

उल्लेखनीय है कि इजराइल पर लंबे वक्त से शक किया जाता रहा है कि बीते एक दशक में ईरान के परमाणु वैज्ञानिकों की हत्या में उसका हाथ है. हालांकि उसने इस हमले पर कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है. फख्रीजादा ईरान के 'एएमएडी कार्यक्रम की अगुवाई करते थे. इसे लेकर इजराइल और पश्चिमी देशों का आरोप है कि यह एक सैन्य अभियान है जो परमाणु हथियार बनाने की कोशिश में हैं.

देश और दुनिया की हर एक खबर अलग नजरिए के साथ और लाइव टीवी होगा आपकी मुट्ठी में. डाउनलोड करिए ज़ी हिंदुस्तान ऐप, जो आपको हर हलचल से खबरदार रखेगा... नीचे के लिंक्स पर क्लिक करके डाउनलोड करें- Android Link - https://play.google.com/store/apps/details?id=com.zeenews.hindustan&hl=e... iOS (Apple) Link - https://apps.apple.com/mm/app/zee-hindustan/id1527717234

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़