लाहौर: आतंकी हाफिज सईद के घर के बाहर जोरदार धमाका

लाहौर में आतंकी हाफिज सईद के घर के बाहर जोरदार धमाक हो गया. जिसमें हाफिज के गार्ड समेत 2 लोगों की मौत हो गई. आसपास की इमारतों के शीशे टूट गए.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Jun 23, 2021, 03:09 PM IST
  • हाफिज के घर के बाहर धमाका
  • 2 लोगों की मौत, 15 लोग घायल
लाहौर: आतंकी हाफिज सईद के घर के बाहर जोरदार धमाका

नई दिल्ली: मुंबई आतंकी हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के घर के पास धमाका हुआ. लाहौर में जौहर टाउस एरिया में ये धमाका हुआ. धमाके में 2 लोगों की मौत, 15 लोग घायल हो गए. हाफिज सईद के घर के पास हुए धमाके के बाद अफरा-तफरी का माहौल है.

हाफिज सईद के घर के पास धमाका

लाहौर में हाफिज सईद के घर के बाहर हुए धमाके से कई इमारतों को नुकसान पहुंचा है. धमाके में घायल हुए लोगों को इलाज के लिए तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया. इस ब्लास्ट में हाफिज सईद के घर के गार्ड की मौत हो गई है.

जमात उद दावा का कार्यकर्ता भी घायल

पाकिस्तान के लाहौर में  कुख्यात आतंकी हाफिज सईद के घर के बाहर जोरदार ब्लास्ट हुआ और इस धमाके में जमात उद दावा का कार्यकर्ता भी घायल है. आपको बता दें, जमात उद दावा हाफिज सईद का संगठन है. ब्लास्ट में घायलों को जिन्ना अस्पताल में भर्ती कराया गया.

घटना की सूचना पर मौके पर पुलिस और बम निरोधक दल पहुंचा. बताया जा रहा है कि धमाका इतना जबरदस्त था कि आसपास के घरों और इमारतों के शीशे टूट गए. एक इमारत बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुई 

इसे भी पढ़ें- छोटी पार्टियों का महागठबंधन तैयार, ओवैसी के साथ राजभर और शिवपाल मिल कर लड़ेंगे चुनाव!

बताया जा रहा है कि कुछ दिन पहले ही हाफिज के घर को जेल में तब्दील किया गया था, जिसके बाद से कोट लखपत जेल से हाफिज अपने घर आता जाता था.

हाफिज सईद अरबी और इंजीनियरिंग का पूर्व प्राध्यापक रहा है. ये जमात-उद-दावा का संस्थापक है. 11 सितंबर 2001 में अमेरिका पर हुए हमलों के बाद अमेरिका ने लश्कर-ए-तैयबा को विदेशी आतंकी संगठन घोषित किया था. वर्ष 2002 में पाकिस्तानी सरकार ने भी लश्कर पर प्रतिबंध लगा दिया. उसके बाद हाफिज सईद ने लश्कर-ए-तैयबा का नया नाम जमात-उद-दावा रखा, हालांकि हाफिज सईद इस बात से इनकार करता है कि जमात-उद-दावा का लश्कर से कोई संबंध है.

इसे भी पढ़ें- Corona in India: देश में 3 करोड़ के पार पहुंचा कोरोना का आंकड़ा, 24 घंटों में 1,358 लोगों की मौत

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़