5000 लोगों के संक्रमण की जिम्मेदार एक महिला

ये महिला है दक्षिण कोरिया की रहने वाली और दक्षिण कोरिया में कोरोना के प्रसार का सबसे बड़ा कारण भी स्वयं यही महिला है.

5000 लोगों के संक्रमण की जिम्मेदार एक महिला

नई दिल्ली:  कोरोना आज इस नव युग के अन्धकार की सबसे काली किरण है. इसने पूरी दुनिया में हाहाकार मचा दिया है.  डब्ल्यूएचओ ने कोरोना वायरस के संक्रमण को अंतरराष्ट्रीय महामारी घोषित कर दिया है. पंद्रह  हज़ार से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं और तीन लाख से अधिक लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं. जहां लोग इसके प्रसार को रोकने का प्रयास कर रहे हैं वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इसके प्रसार का कारण बने हुए हैं.

एक लड़की ने देश भर में फैलाया वायरस

दुनिया में लाखों को संक्रमित करने वाले कोरोना वायरस ने हज़ारों की जानें भी ले ली हैं. लेकिन इसके पीछे दो बड़े अनजान कारणों ने भी बड़ी भूमिका निभाई है. एक तो लोगों ने इसे बहुत हलके में लिया और बाद में स्थिति नियंत्रण से बाहर निकल गई. और दुसरे कारण के तौर पर संक्रमित लोगों ने अनजाने में ही दूसरों को संक्रमण दिया और वह संक्रमण गुणात्मक वृद्धि के साथ प्रसारित हो गया. दक्षिण कोरिया में एक लड़की ने पांच हज़ार लोगों को कोरोना वायरस से संक्रमित कर दिया है.

पड़ताल का चौंकाने वाला परिणाम
कोरोना वायरस के प्रसार को लेकर दक्षिण कोरिया के वैज्ञानिकों ने पड़ताल की और उसके परिणाम स्वरुप उन्होंने पाया कि उनके देश की एक महिला की लापरवाही की वजह से उनके देश में हजारों लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए.चर्च गई महिला और फैला दिया वायरस

वैज्ञानिकों ने गहन पड़ताल के बाद पाया कि कोरोना के संक्रमण से ग्रस्त एक महिला सुबह की प्रार्थना के लिए साउथ कोरिया के शेंचोंजी चर्च गई. उसके बाद वहां लगभग एक हज़ार दो सौ लोगों में कोरोना वायरस का संक्रमण फ़ैल गया. देश के सौभाग्यवश ये महिला 6 फरवरी को छोटी सी दुर्घटना हो जाने के कारण जब अस्पताल पहुंची तो वहां डॉक्टर्स ने पाया कि महिला को हल्का बुखार था. किन्तु डॉक्टर्स ने अनजाने में ही इस बुखार को भी नज़रअंदाज़ कर दिया जिसके कारण बाद में इसी अस्पताल में 119 लोग वायरस की चपेट में आ गए.

फिर आया वैलेंटाइन डे
फिर कुछ दिनों में आ गया 14 फरवरी यानी वैलेंटाइन डे. इस दिन ये महिला क्वीन वैल होटल में खाना खाने गई. यहां भी अनजाने में ही इस महिला ने कई लोगों को संक्रमित कर दिया. इस तरह से  लोग संक्रमण की चपेट में आ गए. देखते ही देखते देश भर में कोरोना वायरस ऐसे फैलता चला गया जैसे मकड़ी का जाला और एक के बाद एक लोग उसकी चपेट में आते चले गए.