रैनबैक्सी के पूर्व प्रमोटर मालविंदर मोहन सिंह धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार

रैनबैक्सी के पूर्व प्रमोटर मालविंदर मोहन सिंह धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने कसा शिकंजा.

रैनबैक्सी के पूर्व प्रमोटर मालविंदर मोहन सिंह धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार

नई दिल्ली: रैनबैक्सी और फोर्टिस के पूर्व प्रमोटर मलविंदर सिंह (47) को धोखाधड़ी के एक और मामले में दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (EOW) ने मंगलवार को औपचारिक रूप से गिरफ्तार किया. मलविंदर सिंह एक अन्य मामले में पहले से ही न्यायिक हिरासत में हैं. मलविंदर सिंह के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 409/120 बी के तहत अपराध शाखा पुलिस के पास प्राथमिकी संख्या 189/19 दर्ज की गई है.

मामले में रेलीगेयर फिनवेस्ट लिमिटेड (आरएफएल) ने आरोप लगाया है कि मलविंदर मोहन सिंह और शिविंदर मोहन सिंह ने लक्ष्मी विलास बैंक लिमिटेड (एलवीएल) के कर्मचारियों की मिलीभगत से 400 करोड़ और 350 करोड़ रुपये की राशि की कंपनी की दो एफडी का गबन किया.

जांच में खुलासा हुआ है कि आरोपियों ने इन दोनों एफडीआर (फिक्स्ड डिपोजिट रसीद) के एवज में अपनी कंपनी आरएचएस होल्डिंग्स प्राइवेट लिमिटेड के लिए कर्ज लिया और बाद में व्यक्तिगत जिम्मेदारी से मुकर गए.

प्राथमिकी के अनुसार, आरोपी व्यक्ति अपने निजी लाभ के लिए गुप्त तरीके से लगातार सार्वजनिक धन की हेराफेरी करते रहे हैं.

Trending news