बिहार: मुजफ्फरपुर में हुई लूट पर सियासत शुरू, RJD बोली- जब CM-DGP थे तो कैसे हुई चोरी

आरजेडी ने सरकार से किया सवाल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और डीजीपी गुप्तेश्वर पण्डेय समेत तमाम अधिकारी शहर में मौजूद थे तो घटना कैसे हुई इसका सरकार को जबाब देना चाहिए.

बिहार: मुजफ्फरपुर में हुई लूट पर सियासत शुरू, RJD बोली- जब CM-DGP थे तो कैसे हुई चोरी
आरजेडी विधायक राहुल तिवारी ने नीतीश कुमार से सवाल किया है. (फाइल फोटो)

मुजफ्फरपुर: बिहार के मुजफ्फरपुर में एटीएम कैस वैन से 24 लाख हुई लूट को लेकर पटना में राजनीति शुरू हो गई है. आरजेडी ने सरकार से किया सवाल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और डीजीपी गुप्तेश्वर पण्डेय समेत तमाम अधिकारी शहर में मौजूद थे तो घटना कैसे हुई इसका सरकार को जबाब देना चाहिए तो बीजेपी जेडीयू ने कहा मुख्यमंत्री के कार्यक्रम से जोड़ कर भी देखे आरजेडी अपना शासन काल याद करे.

एक तरफ लगातार बिहार में अपराध घटनाओ में इजाफा हुआ है तो मुजफ्फरपुर में शायद ही कोई ऐसा दिन हो जिस दिन लूट अपहरण बलात्कार की घटना न होती हो. इन दिनों लगातार लूट की घटना बढ़ती जा रही है. अपराधियों के हौसले इतने बुल्द है की जिले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का कार्यक्रम था और एटीएम कैस वैन से 24 लाख रूपये की लूट हो गई. 

इसके बाद आरजेडी ने सरकार से सवाल किया है पार्टी के विधायक राहुल तिवारी ने कहा कि यह शर्म की बात है मुख्यमंत्री और डीजीपी दोनों मुजफ्फरपुर में मौजूद थे और इसके बावजूद इस तरह की घटना घट रही है. मुख्यमंत्री जो न्याय के साथ विकास की बात करते हैं यह सामने दिखाई दे रहा है.
 
वहीं, इस घटना को लेकर आरजेडी के द्वारा निशाना साधे जाने पर जेडीयू ने पलटवार किया है. पार्टी प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा की आरजेडी की नसीहत समझ से परे है. जंगल राज वाली पार्टी कानून व्यवस्था पर सवाल खड़ी करती है तो लोगों को हैरत होती है. जो लोग इस लूटपाट किए हैं पुलिस गिरफ्तार करके जो आवश्यक कार्रवाई है उसे करेगी लेकिन मुख्यमंत्री जी की सभा और लूट के घटना को एक साथ जोड़ कर देखा जाना समझ से परे है.

वहीं, बीजेपी ने आरजेडी के इस बयान पर सुर में सुर मिलाया है. पार्टी के प्रवक्ता नवल यादव ने कहा है कि अपराध की घटना पर सरकार नियंत्रण करने का प्रयास कर रही है. छिटपुट घटनाएं घटती रहती है. मुख्यमंत्री और डीजीपी जहां रहते हैं वहां चोरों के पीछे नहीं लगे रहते हैं. वह कार्यक्रम में थे और उसी कार्यक्रम के घटना हुई है. जो चोरी करने वाले लोग जो शातिर हैं जो ऐसे अपराध किए हैं सरकार उन्हें छोड़ने वाले नहीं जहां भी होंगे उनको वहां से उन्हें खींचकर लाया जाएगा और कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी.