इलाहाबाद हाईकोर्ट ने खारिज की साकेत गोखले की अर्ज़ी, अयोध्या में भूमि पूजन का रास्ता साफ

बताया जा रहा है कि साकेत गोखले राहुल गांधी के करीबी हैं. साकेत की कई तस्वीरें भी राहुल गांधी के साथ हैं और गोखले ने राहुल गांधी के कई ट्वीट भी रिट्वीट किए हैं

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने खारिज की साकेत गोखले की अर्ज़ी, अयोध्या में भूमि पूजन का रास्ता साफ
फाइल फोटो.

इलाहाबाद: सोशल एक्टिविस्ट साकेत गोखले के ज़रिए अयोध्या में भूमि पूजन के खिलाफ दाखिल की गई अर्ज़ी को खारिज कर दिया है. इस अर्ज़ी में गोखले में अयोध्या में 5 अगस्त को होने वाले भूमि पूजन पर रोक लगाने की मांग की थी. उन्होंने इस भूमि पूजन को अनलॉक-2 की गाइडलाइन की खिलाफवर्ज़ी बताया है.

हाई कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि पिटिशन में उठाए गए नुक्ते सिर्फ तसव्वुरात पर मुनहसिर हैं. जो उम्मीदें ज़ाहिर की गई हैं वे बे बुनियाद हैं. अदालत ने उम्मीद ज़ाहिर है कि भूमि पूजन के दौरान राम मंदिर ट्रस्ट की जानिब से कोविड गाइडलाइन पर अमल यकीनी किया जाएगा.

साकेत ने अर्ज़ी में कहा गया था कि भूमि पूजन का प्रोग्राम होने से कोरोना वायरस फैलने का खतरा बढ़ेगा, यूपी हुकूमत मरकज़ की गाइडलाइन में छूट नहीं दे सकती है. इसके अलावा ज़ी मीडिया से बातचीत में साकेत गोखले ने बताया कि भूमि पूजन में 300 लोग इकट्ठा होंगे जो कि कोरोना के नियमों के खिलाफ होगा. 

बताया जा रहा है कि साकेत गोखले राहुल गांधी के करीबी हैं. साकेत की कई तस्वीरें भी राहुल गांधी के साथ हैं और गोखले ने राहुल गांधी के कई ट्वीट भी रिट्वीट किए हैं.

Zee Salaam LIVE TV