कानपुर में शहीद हुए पुलिस मुलाज़िमीन को खिराजे अकीदत पेश करने पहुंचे CM योगी

यहां सीएम योगी ने शहीदों के परिवार वालों को 1-1 करोड़ की इक्तेसादी मदद का देने का ऐलान किया है.

कानपुर में शहीद हुए पुलिस मुलाज़िमीन को खिराजे अकीदत पेश करने पहुंचे CM योगी
फाइल फोटो

कानपुर: सीएम योगी आदित्यनाथ कानपुर में शहीद हुए उत्तर प्रदेश पुलिस के जवानों को खिराजे अकीदत पेश करने कानपुर पहुंचे. यहां सीएम योगी ने शहीदों के परिवार वालों को 1-1 करोड़ की इक्तेसादी मदद का देने का ऐलान किया है. उन्होंने कानपुर पुलिस लाइन में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि शहादत की कोई कीमत नहीं होती. उत्तर प्रदेश हुकूमत शहीदों के परिवार वालों के साथ खड़ी है. परिवार के एक मेंबर को सरकारी नौकरी और असाधारण पेंशन दी जाएगी.

सीएम योगी जुमा को दोपहर बाद कानपुर पहुंचे और सबसे पहले रीजेंसी अस्पताल में दाखिल ज़ख्मी पुलिस जवानों का हाल चाल जाना. सीएम योगी के साथ उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य भी मौजूद रहे. ज़ख्मियों से मुलाकात के बाद सीएम योगी ने पुलिस लाइन पहुंच मुठभेड़ के दौरान जान गंवाने वाले पुलिस मुलाज़िमीन को फूल भेंट कर खिराजे अकीदत पेश की. साथ ही गमज़दा परिवारों की हिम्मत बढ़ाई. उन्होंने कहा कि मुजरिमीन को सज़ा भुगतनी होगी. जवानों ने मज़बूती से ज़िम्मेदारी निभाई. 

बता दें कि गुज़िश्ता जुमेरात और जुमा की दरमियानी रात पुलिस टीम हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को गिरफ्तार करने कानपुर देहात के शिवली थाना इलाके के बिकरू गांव पहुंची थी. पुलिस टीम पर विकास दुबे ने अपने गुर्गों के साथ मिलकर अंधाधुंध फायरिंग झोंक दी. इस शूटआउट में डिप्टी एसपी समेत आठ पुलिस मुलाज़िमीन की मौत हो गई, जबकि सात पुलिसकर्मी घायल हो गए. पुलिस पर हमला करने के बाद विकास दुबे और उसके साथी मौके से फरार हो गए.

Zee Salaam Live TV