केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भाजपा से टीएमसी में गए मुकुल रॉय की वापस ली “जेड” क्लास की सिक्योरिटी

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) को 67 वर्षीय रॉय की सुरक्षा में तैनात जवानों को वापस बुलाने का हुक्म दिया है। अब रॉय और उनके बेटे को राज्य पुलिस सुरक्षा मुहैया कर रही है.

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भाजपा से टीएमसी में गए मुकुल रॉय की वापस ली “जेड” क्लास की सिक्योरिटी
मुकुल रॉय, फाइल फोटो

नई दिल्लीः तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) में वापसी के कुछ दिनों बाद साबिक भाजपा नेता मुकुल रॉय ने केंद्र से उनकी वीआईपी सुरक्षा हटाने की थी जिसे जिसे केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कबूल कर लिया है. मंत्रालय ने जुमेरात को इसकी जानकारी दी है. अफसरान ने बताया कि रॉय को फराहम ‘जेड’ क्साल की वीआईपी सिक्यूरिटी उनसे वापस ले ली गई है. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) को 67 वर्षीय रॉय की सुरक्षा में तैनात जवानों को वापस बुलाने का हुक्म दिया है. अब रॉय और उनके बेटे को राज्य पुलिस सुरक्षा मुहैया कर रही है.

चुनाव के वक्त बढ़ाई गई थी सिक्यूरिटी 
भाजपा में शामिल होने के बाद रॉय को केंद्रीय अर्द्धसैनिक बल सीआरपीएफ की ‘वाई प्लस’ क्लास की सिक्यूरिटी दी गई थी, जो इस साल मार्च-अप्रैल में पश्चिम बंगाल में विधानसभा से ठीक पहले बढ़ाकर ‘जेड’ श्रेणी की कर दी गई थी. रॉय के साथ सीआरपीएफ के करीब दो दर्जन सशस्त्र कमांडो की टुकड़ी होती थी.

भाजपा ने बनाया था पार्टी का कौमी नायब सदर
गौरतलब है कि रॉय को पार्टी मुखलिफ काम करने की वजह से 2017 में तृणमूल कांग्रेस से बर्खास्त कर दिया गया था, जिसके बाद वह भाजपा में शामिल हो गए थे. मगरबी बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले उन्हें भाजपा का कौमी नायब सदर बनाया गया था. विधानसभा चुनाव में भाजपा की शिकस्त के बाद रॉय और उनके बेटे शुभ्रांग्शु पिछले हफ्ते कोलकाता में मगरबी बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी में शामिल हो गए थे. हालांकि, रॉय कृष्णानगर उत्तर से भाजपा के उम्मीदवार के तौर पर विधानसभा चुनाव जीत गए थे. 

Zee Salaam Live Tv