कहीं आपके आधार कार्ड का भी तो नहीं हो रहा गलत इस्तेमाल, इस तरह करें चेक

आज के दौर में आधार कार्ड (Aadhar Card) एक बहुत जरूरी दस्तावेज हो चुका है. स्कूल में बच्चों के दाखिले से लेकर सारी सरकारी स्कीमों में मिलने वाले फायदे लेने तक इसकी मांग की जाती है.

कहीं आपके आधार कार्ड का भी तो नहीं हो रहा गलत इस्तेमाल, इस तरह करें चेक

नई दिल्ली: आज के दौर में आधार कार्ड (Aadhar Card) एक बहुत जरूरी दस्तावेज हो चुका है. स्कूल में बच्चों के दाखिले से लेकर सारी सरकारी स्कीमों में मिलने वाले फायदे लेने तक इसकी मांग की जाती है. इसके अलावा ऐसे और भी कई काम हैं, जिनके लिए आधार कार्ड बेहद जरूरी है. 

यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) के ज़रिए होने वाले आधार कार्ड में एक यूजर की डेमोग्राफिक और बॉयोमेट्रिक जानकारियां दर्ज होती हैं. यही वजह है कि Aadhar Card बनने से लेकर इसके अपडेट को लेकर लोग हमेशा परेशान दिखते हैं. आधार में 12 अंकों का एक यूनिक नंबर दिया होता है.

यह भी पढ़ें: AMU: जानिए क्या है टाइम कैप्सूल, गणतंत्र दिवस पर AMU में किया जाएगा दफन

आधार के गलत इस्तेमाल न हो इसको लेकर बीच-बीच में कई तरह के बदलाव भी होते रहे हैं. कई बार आधार के गलत इस्तेमाल (How To Check Aadhaar Card Misuse) को लेकर मीडिया में भी खबरें भी आती रही हैं. जिसके बाद लोगों के मन में हमेशा कई तरह की शंकाएं रहती हैं कि कहीं उनके आधार का गलत इस्तेमाल तो नहीं किया जा रहा है. यहां हम आपको एक तरीका बता रहे हैं, जिसके जरिये आप अपने आधार के इस्तेमाल की पूरी जानकारी ले सकेंगे.

यह भी पढ़ें: महिलाओं की इस बीमारी समेत कई मर्ज को दूर करता है हींग, जानिए इस्तेमाल का तरीका

दरअसल आधार के आधिकारिक वेबसाइट में aadhaar authentication history का एक विकल्प दिया गया है, जिसके जरिये आप पिछले 6 महीने तक का रिकॉर्ड चेक कर सकते हैं. इसके लिए आपको नीचे दी गई प्रक्रिया से होकर गुजरना पड़ेगा.

क्या है प्रक्रिया ?
सबसे पहले आपको  uidai के आधिकारिक वेबसाइट https://uidai.gov.in पर जाना होगा
वेबसाइट पर जाकर माइ आधार सेक्शन में जाना होगा.
माइ आधार में जाने के बाद आपको aadhaar authentication history पर जाना होगा
यहां खुले ऑप्शन में आप अपना आधार नंबर दें और कैप्चा भरें.
फिर आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा, उसे भरने के बाद आगे का ऑप्शन आयेगा.
इसके बाद Data Range के ऑप्शन में जाने के बाद आप 6 महीने तक का डेटा देख सकते हैं.