मुख्तार अंसारी के बेटों को मिली बड़ी राहत, हाईकोर्ट ने गिरफ्तारी पर लगाई रोक

अर्जी में यूपी की राजधानी लखनऊ के हज़रतगंज थाने में उनके खिलाफ दर्ज कराई गई एफआईआर को रद्द करने और मुल्जिमों की गिरफ्तारी पर रोक लगाने की अपील की गई थी. 

मुख्तार अंसारी के बेटों को मिली बड़ी राहत, हाईकोर्ट ने गिरफ्तारी पर लगाई रोक
फाइल फोटो

लखनऊ/मासूम सिद्दीकी: लगातर मुश्किलों में घिरते जा रहे यूपी के दबंग एमएलए मुख्तार अंसारी परिवार को बड़ी राहत मिली है. हाईकोट की लखनऊ बेंच ने बीएसपी एमएलए मुख्तार अंसारी के दोनों बेटों के खिलाफ दर्ज फर्जीवाड़ा के इल्जाम मामले में उनकी गिरफ्तारी पर अगली सुनवाई तक रोक लगा दी है.

अदालत ने इस मामले में राज्य सरकार और दिगर लोगों से जवाबी हलफनामा दाखिल करने के लिए चार हफ्ते का वक्त दिया है. इसके बाद दो हफ्ते में अर्जीगुजार की जानिब से जवाबी हलफनामा दाखिल किया जा सकेगा. इन कारवाईयों तक अदालत ने गिरफ्तारी पर रोक रहेगी. हालांकि, अदालत ने साफ कहा कि इस केस की जांच जारी रहेगी और दोनों याची जांच करने वालों की पूरी मदद करेगें. जस्टिस्ट देवेन्द्र कुमार उपाध्याय और जस्टिस्ट सरोज यादव की बेंच ने यह हुक्म मुख्तार अंसारी और उमर अंसारी की अर्जी की सुनवाई के बाद दिया.

अर्जी में यूपी की राजधानी लखनऊ के हज़रतगंज थाने में उनके खिलाफ दर्ज कराई गई एफआईआर को रद्द करने और मुल्जिमों की गिरफ्तारी पर रोक लगाने की अपील की गई थी.  इसमें राजधानी के डालीबाग इलाके में मुश्तबा तौर पर गैर कानूनी जमीन पर घर का नक्शा एलडीए से मंजूर कराने में फर्जीवाड़े का इल्जाम है. हालांकि इस मामले में फिलहाल मुख्तार के दोनों बेटों को बड़ी राहत मिली है.

Zee Salaam LIVE TV