भारत को वैक्सीन देने को लेकर 'परोपकारी'' बिल गेट्स ने दिया विवादित बयान

इंटरव्यू के दौरान बिल गेट्स से जवाब की वज़ाहर के बारे में पूछे जाने पर, उन्होंने कहा, "दुनिया में इतने सारे वैक्सीन कारखाने हैं और लोग टीकों की सिक्योरिटी के बारे में बहुत गंभीर हैं

भारत को वैक्सीन देने को लेकर 'परोपकारी'' बिल गेट्स ने दिया विवादित बयान
फाइल फोटो

नई दिल्ली: इस समय लगभग सारी दुनिया कोरोना वायरस से जंग लड़ रही है. इस बीच अपनी हमदर्दी के लिए भी पहचाने जाने वाले माइक्रोसॉफ्ट के को फाउंडर बिल गेट्स ने भारत को वैक्सीन देने से संबंधित विवादित बयान दे दिया है. 

एक इंटरव्यू के दौरान सवाल का जवाब देते हुए बिल गेट्स ने कहा कि कोविड वैक्सीन का फॉर्मूला तरक्कीयाफ्ता मुल्कों को नहीं दिया जाना चाहिए. इस वजह से तरक्कीयाफ्ता और गरीब मुल्कों को कुछ वक्त इंतजार करना पड़ सकता है लेकिन उन्हें वैक्सीन फॉर्मूला नहीं मिलना चाहिए. 

यह भी पढ़ें: Cyclone Tauktae: भयानक चक्रवाती तूफान की शक्ल में तब्दील होगा 'तौकते', रेड अलर्ट जारी

इंटरव्यू के दौरान बिल गेट्स से जवाब की वज़ाहर के बारे में पूछे जाने पर, उन्होंने कहा, "दुनिया में इतने सारे वैक्सीन कारखाने हैं और लोग टीकों की सिक्योरिटी के बारे में बहुत गंभीर हैं और कुछ ऐसा कर रहे हैं जो कभी नहीं किया गया था. उन्होंने कहा कि अमेरिका की जॉनसन एंड जॉनसन फैक्ट्री और भारत की एक फैक्टरी में अंतर होता है. 

यह भी पढ़ें: शर्त के लिए मौत को दी दावत, सांप पकड़ने की सनक ने ले ली जान, देखिए VIDEO

वैक्सीन को हम अपने पैसे और अपनी महारत से बनाते हैं. वैक्सीन फॉर्मूला किसी रेसिपी की तरह नहीं है कि इसे किसी के भी साथ शेयर किया जा सके. इसके लिए बहुत ज्यादा एहतियात रखनी होती है, टेस्टिंग करनी होती है, ट्रायल्स करने होते हैं. वैक्सीन बनने के दौरान की हर चीज बहुत ही सावधानी से देखनी होती है.'

Microsoft के संस्थापक बिल गेट्स ने बड़े पैमाने पर बौद्धिक संपदा कानूनों के माध्यम से भाग्य बनाया है, जिसने उनके कंप्यूटर सॉफ़्टवेयर नवाचारों को अरबों डॉलर की जायदाद में बदल दिया है. बिल गेट्स के इस बयान की दुनिया भर में आलोचना हो रही है.

ZEE SALAAM LIVE TV