Budget 2021: ट्रेनों में अब प्लेन की तर्ज पर मिलेगा 'Ready To Eat' भोजन, IRCTC लेकर आ रही है ये स्कीम

ट्रेनों में अब लोगों को रेडी टू ईट (Ready To Eat) भोजन मिल सकेगा. केंद्र सरकार जल्द पेश होने वाले बजट में इस बात का प्रावधान करने जा रही है. 

Budget 2021: ट्रेनों में अब प्लेन की तर्ज पर मिलेगा 'Ready To Eat' भोजन, IRCTC लेकर आ रही है ये स्कीम
भारतीय ट्रेनों में मिलेगा रेडी टू ईट भोजन (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारतीय रेलवे (IRCTC) अब कमाई बढ़ाने के लिए नए-नए तरीकों पर काम कर रहा है. वह अब प्लेन की तरह रेलों में भी रेडी टू ईट (Ready To Eat) भोजन परोसने की रणनीति बना रहा है. इसके लिए IRCTC ने कई दिग्गज फूड कंपनियों से हाथ मिलाया है. 

सरकार ने नामी फूड कंपनियों से मिलाया हाथ

सूत्रों के मुताबिक केंद्र सरकार आगामी बजट में रेलों में रेडी टू ईट (Ready To Eat) स्कीम की घोषणा कर सकती है. इसके लिए IRCTC ने दिग्गज फूड कंपनी  MTR, ITC, DUNCAN, बाघ बकरी, RK कैटरर और हल्दीराम समेत कई नामी कंपनियों के साथ करार कर लिया है. रेल यात्रा के दौरान लोग अपनी पसंद के कैटरर से भोजन (Train) मंगवा सकेंगे. 

कोरोना की वजह से फिलहाल बंद हैं पैंट्री

बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से देश में फिलहाल स्पेशल ट्रेन ही चल रही हैं. इन ट्रेनों में पैंट्री व्यवस्था पर फिलहाल रोक है. ऐसे में रेलवे इन ट्रेनों में Ready To Eat भोजन व्यवस्था शुरू करके उन्हें एक नई सुविधा प्रदान करना चाहती है. सूत्रों के मुताबिक रेल मंत्री पीयूष गोयल इस योजना को जल्द से जल्द लागू करना चाहते हैं. इसके लिए वे मंत्रालय के अधिकारियों से लगातार बातचीत कर रहे हैं. 

ये भी पढ़ें- IRCTC Latest News: ट्रेन टिकट नहीं मिला तो बस में मिलेगी सीट, ये है IRCTC की नई सुविधा

ट्रेनों से खत्म होंगे पैंट्री कार के ठेके

जानकारी के मुताबिक रेलों में Ready To Eat स्कीम लागू होने पर जिन ट्रेनों में फिलहाल पैंट्री व्यवस्था है, वहां पर कांट्रेक्टरों का ठेका खत्म कर इसकी जिम्मेदारी IRCTC को सौंपी जाएगी. इसके बाद IRCTC फूड कंपनियों के सहयोग से लोगों को ट्रेनों में Ready To Eat मील सर्व करने की कार्रवाई शुरू करेगी. 

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.