Zee Rozgar Samachar

सरकार ने दिया New Year गिफ्ट, एकमुश्त मिलेगा PF का 8.5% ब्याज, ऐसे करें चेक

मार्च माह में EPFO के सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज ने EPF पर वित्त वर्ष 2019-20 के लिए 8.5 प्रतिशत ब्याज एक साथ देने का फैसला किया था. लेकिन सितंबर में उसने कोविड-19 के चलते बने हालात को देखते हुए इस ब्याज को 2 किस्तों में अदा करने का प्रस्ताव दिया था.

सरकार ने दिया New Year गिफ्ट, एकमुश्त मिलेगा PF का 8.5% ब्याज, ऐसे करें चेक
फाइल फोटो

नई दिल्ली: नए साल की शुरुआत से ठीक पहले सरकार ने कर्मचारियों के लिए बड़े तोहफे का ऐलान किया है. दरअसल, सरकार ने वित्त वर्ष 2019-20 के लिए एम्प्लॉइज प्रोविडेंट फंड (EPF) पर 8.5 प्रतिशत का पूरा ब्याज एक साथ देने का प्रस्ताव मंजूर कर लिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अधिकारियों ने इस बारे में अधिक जानकारी देते हुए बताया कि हाल ही में ब्याज दर से जुड़े प्रस्ताव पर चर्चा के लिए श्रम और वित्त मंत्रालय की बैठक हुई थी. जिसमें वित्त मंत्रालय ने जोखिम भरे निवेश पर कुछ चिंता जताते हुए ब्योरा मांगा था.

ये भी पढ़ें:- Income Tax Return Filing: बढ़ गई ITR फाइलिंग की Last Date, जानिए नई तारीख

कोरोना के कारण दो किश्तों में आता था ब्याज

बताते चलें कि मार्च माह में EPFO के सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज ने EPF पर वित्त वर्ष 2019-20 के लिए 8.5 प्रतिशत ब्याज एक साथ देने का फैसला किया था. लेकिन सितंबर में उसने कोविड-19 के चलते बने हालात को देखते हुए इस ब्याज को 2 किस्तों में अदा करने का प्रस्ताव दिया था. इस दौरान कहा गया था कि 8.15 प्रतिशत वाली किश्त तुरंत 6 करोड़ कर्मचारियों खाते में डाल दी जाए और बाकी 0.35% रकम 31 दिसंबर से पहले जमा कराई जाए.

ये भी पढ़ें:- Samosa को 'No' बोलने वालों के लिए इस रेस्टोरेंट ने लिखा खास मैसेज, पढ़कर आ जाएगी हंसी

इस तरह चेक करें EPF अकाउंट बैलेंस...

1. सबसे पहले Epfindia.gov.in पर लॉग ऑन करें.
2. इसके बाद अपने UN नंबर, पासवर्ड और कैप्चा कोड  को भरें.
3. स्कीन पर आपको ई-पासबुक का ऑप्शन दिखेगा, उस पर क्लिक करें.
4. अब आपसे कुछ जानकारी मांगी जाएगी. इसके भरने के बाद ओके बटन पर क्लिक करें.
5. मेंबर आईडी खोलें.
6. इतना करते ही आप अपने खाते में कुल EPFO बैलेंस देख सकते हैं.

VIDEO

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.