PPF Scheme: 150 रुपये को 15 लाख में बदलने का Chance, बिना देरी बस करें ये काम

एक स्कीम ऐसी है जो आपके 150 रुपये को 15 लाख रुपये में बदल सकती है. नियम के अनुसार, अगर आप इस योजना में निवेश करते हैं तो आपको बेहतर रिटर्न के साथ 3 स्तर पर टैक्स में फायदा मिलेगा. आइए जानते हैं इस स्कीम के बारे में...

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Apr 22, 2021, 23:34 PM IST
1/6

7.1 फीसदी का मिलेगा इंटरेस्ट

Interest of 7.1 percent on investment in PPF scheme

इस स्कीम/योजना का नाम पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (PPF) है, जिसमें निवेश पर आपको सालाना 7.1 फीसदी का इंटरेस्ट रेट मिलेगा. ये टैक्स बेनिफिट और इंफ्लेशन से बेअसर है. ऐसे में नेट रिटर्न इससे कहीं ज्यादा है.

2/6

3 स्तर पर मिलेगा टैक्स में फायदा

PPF Investment will get tax benefits at 3 levels

इसके अलावा निवेश करने वाले लोगों को 3 स्तर पर टैक्स में फायदा मिलेगा. पहला- निवेश करने पर डिडक्शन का फायदा. दूसरा- इंटरेस्ट पर किसी प्रकार का टैक्स देय नहीं, और तीसरा- मैच्योरिटी पर भी एकमुश्त रकम टैक्स फ्री होती है.

3/6

रोजना मात्र 150 रुपये का निवेश

Investment in PPF scheme for only 150 rupees

PPF स्कीम में अगर हर महीने 4,500 रुपये यानी हर रोज 150 रुपये का निवेश किया जाए तो 15 साल में मैच्योरिटी पर वर्तमान ब्याज दर के हिसाब से 14 लाख 84 हजार रुपये मिलेंगे. यानी कुल 8,21,250 रुपये निवेश करने पर आपको 15 साल बाद 14.84 लाख रुपये मिलेंगे.

4/6

5 तारीख को निवेश है फायदेमंद

Investment in PPF scheme on 5th is beneficial

PPF हर महीने ब्याज की गणना 5 तारीख के बैलेंस के आधार पर करता है. ऐसे में अगर आप हर महीने 5 तारीख को निवेश करते हैं आपको बहुत फायदा होगा. वहीं, इसमें एक दिन की भी चूक होने पर पूरे 25 दिनों के लिए ब्याज का लाभ नहीं मिलेगा. अगर यह गलती हर महीने की जाती है तो 365 दिनों में 300 दिनों के लिए ब्याज का लाभ नहीं मिलेगा.

5/6

1.5 लाख तक का निवेश संभव

Maximum investment up to 1.5 lakhs possible in PPF scheme

इस स्कीम के तहत ज्यादा से ज्यादा डेढ लाख रुपये और कम से कम 500 रुपये का निवेश किया जा सकता है. निवेश करने पर सेक्शन 80C के तहत डिडक्शन का फायदा मिलता है, और ये इंट्रेस्ट इनकम पूरी तरह टैक्स फ्री है और मैच्योरिटी भी. 

6/6

सरकार देती है सुरक्षा

Government gives security to PPF scheme

हमारी सहयोगी साइट ज़ी बिजनेस की रिपोर्ट के मुताबिक, PPF को सरकार की सुरक्षा मिलती है. इसका मकसद अनऑर्गनाइज्ड सेक्टर, खुद का बिजनेस करने वाले लोगों का रिटायरमेंट सुरक्षित बनाना है. फिलहाल इसके लॉक-इन-पीरियड को कम करने और पैसे तय अवधि पर निकालने के फैसले पर विचार किया जा रहा है.