PM Kisan: छोटी सी गलती और 7 लाख किसानों के खातों में पेमेंट हुई फेल, जानिए कहीं इसमें आपका नाम तो नहीं?

PM Kisan Latest Updates: इस बार पेमेंट फेल होने वाले खातों की संख्या भी पहले से कहीं ज्यादा है, मतलब सरकार ने पैसा तो भेजा, लेकिन किसानों के खातों में नहीं पहुंचा, पेमेंट फेल के ऐसे 6,84, 912 मामले सामने आए हैं

PM Kisan: छोटी सी गलती और 7 लाख किसानों के खातों में पेमेंट हुई फेल, जानिए कहीं इसमें आपका नाम तो नहीं?

PM Kisan Updates: देश के जरूरतमंद किसानों के लिए सरकार ने पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम के तहत (PM Kisan Samman Nidhi Scheme) 8वीं किस्त जारी की थी, लेकिन अबतक करीब 1 करोड़ किसानों को उनकी किस्त का पैसा नहीं पहुंचा है. बड़ी संख्या किसानों के पेमेंट फेल हो गए हैं. 

किस राज्य में कितने किसानों के पेमेंट अटके

पीएम किसान सम्मान निधि की किस्त लटकने के मामले में पहला नंबर आंध्र प्रदेश का है, यहां पर 3,21,378 किसानों का पेमेंट अटका हुआ है. दूसरे नबंर पर उत्तर प्रदेश का है, यहां पर 87,466 किसान हैं जिन्हें अपनी किस्त का इंतजार है. जबकि तीसरे नंबर पर महाराष्ट्र है जहां ऐसे किसानों की संख्या 23605 है और चौथे नंबर पर है राजस्थान है, यहां पर 19702 किसान हैं जिन्हें अपनी किस्त का इंतजार है. 

ये भी पढ़ें- पेट्रोल, डीजल, LPG के बाद अब टेलीकॉम सेवाएं होंगी महंगी! सुनील मित्तल ने दिए संकेत, 'टैरिफ बढ़ाने में कोई हिचक नहीं'

6.84 लाख किसानों के पेमेंट फेल

पीएम किसान की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक 30 जून, 2021 तक 11 करोड़ 97 लाख 49 हजार 455 किसान रजिस्टर्ड हैं. इनमें से 10 करोड़ 25 लाख 79 हजार 415 किसानों के बैंक खाते में डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसपर के जरिए आठवीं किस्त के पैसे ट्रांसफर हो चुके हैं किसानों को उनकी किस्त अकाउंट में दिख रही है. जबकि 4,45,287 किसानों की किस्त अब अटकी हुई है इस बार पेमेंट फेल होने वाले खातों की संख्या भी पहले से कहीं ज्यादा है, मतलब सरकार ने पैसा तो भेजा, लेकिन किसानों के खातों में नहीं पहुंचा, पेमेंट फेल के ऐसे 6,84, 912 मामले सामने आए हैं

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि स्कीम के तहत कृषि विभाग की ओर से केंद्र सरकार को भेजे गए कुछ सत्यापित आवेदनों में PFMS से फंड ट्रांसफर के समय कई तरह की गलतियां पायी गईं, जिससे किस्त की रकम ट्रांसफर नहीं हुई. इस वजह से आवेदन में हुई गलतियों को सुधार के लिए वापस भेज दी जा रही हैं. 

VIDEO

इन वजहों से फंस जाती है किस्त

अगर आप भी इस योजना में रजिस्टर्ड हैं, लेकिन आपके खाते में भी 8वीं किस्त की रकम नहीं आई है. तो कुछ बातों का ध्यान रखें. 

1. किसान का नाम 'ENGLISH' में ही लिखा होना चाहिए 
2. जिन किसानों ने आवेदन करते अपना नाम हिंदी में लिखा है, उन्हें तुरंत इसे अंग्रेजी में कर देना चाहिए
3. आवेदन में आवेदक का नाम और बैंक अकाउंट में आवेदक का नाम अलग-अलग हुआ तो भी किस्त अटक सकती है, इसे चेक करें और सही करें, इसके लिए किसान को अपने बैंक की शाखा में पहुंचकर अपना नाम आधार और आवेदन में दिये गए नाम के हिसाब से लिखना चाहिए. 
4. अगर आवेदन में बैंक का IFSC कोड लिखने में गलती हो तो उसे सुधार लें. या फि पर बैंक अकाउंट नंबर लिखने में ही कोई भूल है तो इसे भी सही कर लें.
5. कई बार लोग अपने गांव का नाम भी गलत लिखते हैं. अगर ये गलती हुई है तो इसे भी सही कर लें. 

इन सभी गलतियों में सुधार के लिए आधार ऑथेंटिकेशन जरूरी है. इसके लिए किसानों को अपने नजदीकी CSC/वसुधा केंद्र/ सहज केंद्र से संपर्क करना होगा. 

ऑनलाइन ऐसे ठीक करें गलतियां

ये तो रही गलतियों की बात, अगर आप इन गलतियों को ठीक करना चाहते हैं तो उसका तरीका भी जान लीजिए. 
1. सबसे पहले आपको पीएम किसान की वेबसाइट pmkisan.gov.in को खोलना होगा
2. ऊपर की तरफ Farmers Corner दिखाई देगा, इसे क्लिक करें  
3. इसके बाद आधार एडिट का एक लिंक दिखेगा, इसके क्लिक करें 
4. आपके सामने एक नया पेज खुलेगा, यहां पर आप अपने आधार नंबर को सही कर सकते हैं 
5. अगर बैंक खाता गलत भरा है या खाता संख्या में कोई बदलाव करना है तो इसके लिए आपको अपने कृषि विभाग कार्यालय में या लेखपाल से संपर्क करना होगा. वहां पर जाकर आप इसकी हुई गलती में सुधार करवा सकते हैं.

ये भी पढ़ें- 60% कर्मचारी चाहते हैं सैलरी कम मिले, लेकिन कहीं से भी काम करने की आजादी हो: सर्वे

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.