SBI ग्राहकों के लिए खुशखबरी, इस App की मदद से कर पाएंगे कार्डलेस ट्रांजेक्शन

SBI के चेयरमैन रजनीश कुमार ने कहा कि इससे क्लोनिंग की समस्या से भी बचा जा सकता है.

SBI ग्राहकों के लिए खुशखबरी, इस App की मदद से कर पाएंगे कार्डलेस ट्रांजेक्शन
योनो एप की मदद से पहले रेफरेंस नंबर जेनरेट करना होगा. (फाइल)

नई दिल्ली: देश के सबसे बड़े बैंक SBI (स्टेट बैंक ऑफ इंडिया) ने कहा कि अब उसके ग्राहकों को कार्ड की जरूरत नहीं रह जाएगी. वे कार्ड के बिना ही एटीएम मशीन से पैसा निकाल सकते हैं. इसके लिए बैंक ने YONO Cash लॉन्च किया है. SBI के चेयरमैन रजनीश कुमार ने कहा कि तकनीक की मदद से हम खतरे को कम करने जा रहे हैं. इसके लिए हमने योनो एप में नए ऑप्शन को डाला है जिसकी मदद से डेबिट कार्ड के बिना ही कैश निकाले जा सकते हैं. उन्होंने कहा कि यह ग्राहकों के लिए अलग अनुभव होगा. कार्ड के बिना ट्रांजैक्शन करने से क्लोनिंग की समस्या से बचा जा सकता है. क्लोनिंग के जरिए अकाउंट से पैसे निकाल लेना आजकल बहुत सामान्य समस्या हो गई है.

कैसे करेगा काम?
योनो एप पर ट्रांजेक्शन के ऑप्शन में जाकर कस्टमर्स को पहले ऑनलाइन ट्रांजेक्शन पूरा करना होगा. इस दौरान 6 अंको का पिन जेनरेट करना होगा. प्रॉसेस पूरा होने के बाद रजिस्टर्ड नंबर पर 6 अंकों का रेफरेंस नंबर मैसेज के जरिए मिलेगा. रेफरेंस नंबर जेनरेट होने के आधे घंटे के भीतर किसी भी एटीएम में जाकर रेफरेंस नंबर और पिन नंबर का इस्तेमाल कर फिजिकल ट्रांजैक्शन को पूरा करना होगा.

SBI की तरफ से बयान जारी कर कहा गया कि बैंक चाहता है कि योनो की मदद से पूरे डिजिटल यूनिवर्स को एक प्लेटफॉर्म पर लाया जाए. हर तरह के ट्रांजेक्शन और अन्य सुविधाओं के लिए योनो का इस्तेमाल हो. बैंक प्रमुख ने कहा योनो की अपनी एक पूरी दुनिया होगी. हालांकि, इसे पूरा करने में दो साल का वक्त जरूर लग जाएगा.