7 तरह के होते हैं SBI डेबिट कार्ड, जानिए आपके कार्ड में कितनी है ATM कैश लिमिट

आप स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के कस्टमर हैं और कैश निकालने के लिए ATM का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं या शॉपिंग के बाद डेबिट कार्ड से पेमेंट करते हैं या ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करते हैं तो आपको अपने डेबिट कार्ड के बारे में कुछ बातें जरूर पता होनी चाहिए.

7 तरह के होते हैं SBI डेबिट कार्ड, जानिए आपके कार्ड में कितनी है ATM कैश लिमिट

नई दिल्ली: आप स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के कस्टमर हैं और कैश निकालने के लिए ATM का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं या शॉपिंग के बाद डेबिट कार्ड से पेमेंट करते हैं या ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करते हैं तो आपको अपने डेबिट कार्ड के बारे में कुछ बातें जरूर पता होनी चाहिए. आपको मालूम होना चाहिए कि जो डेबिट कार्ड आपके पास है उसकी ATM से कैश निकालने की लिमिट कितनी है और इस कार्ड से आप कितने की शॉपिंग कर सकते हैं. 

SBI मौजूदा समय में 7 तरह के डेबिट कार्ड अपने ग्राहकों को जारी करता है, जो कैश लिमिट और पेमेंट लिमिट के हिसाब से अलग अलग होते हैं. हम आपको उन सभी डेबिट कार्ड के बारे में बताने जा रहे हैं. 

SBI डेबिट कार्ड और कैश, पेमेंट लिमिट 

 

1. SBI Classic and Maestro Debit Cards
ATM रोजाना कैश निकासी: 20,000
PoS/ऑनलाइन निकासी: 50,000
 
2. SBI Global International Debit Card
ATM रोजाना कैश निकासी: 40,000
PoS/ऑनलाइन निकासी: 75,000

3. SBI Gold International Debit Card
ATM रोजाना कैश निकासी: 50,000
PoS/ऑनलाइन निकासी: 2,00,000

4. SBI Platinum International Debit Card
ATM रोजाना कैश निकासी: 1,00,000
PoS/ऑनलाइन निकासी: 2,00,000

5. sbiINTOUCH Tap & Go Debit Card
ATM रोजाना कैश निकासी: 40,000
PoS/ऑनलाइन निकासी: 75,000

6. SBI Mumbai Metro Combo Card
ATM रोजाना कैश निकासी: 40,000
PoS/ऑनलाइन निकासी: 75,000

7. SBI My Card International Debit Card
ATM रोजाना कैश निकासी: 40,000
PoS/ऑनलाइन निकासी: 75,000

SBI अपने ग्राहकों को महीने में 8 ATM ट्रांजैक्शन फ्री देता है, इसके बाद आपसे चार्ज वसूलता है. 

OTP सिस्टम से निकलेगा SBI ATM से कैश 
SBI ने बढ़ते ATM फ्रॉड्स को रोकने के लिए OTP (One time password) सिस्टम लागू किया है. 10 हजार से ज्यादा कैश निकालने पर आपके मोबाइल पर एक OTP भेजा जाता है. उस OTP को दर्ज करने के बाद ही आप ATM से कैश निकाल सकते हैं. 
हालांकि ये नियम 18 सितंबर से ही लागू हो चुका है. इसलिए अगर आपको ये नहीं पता है तो ये जानकारी भी आपको रखनी चाहिए. 

ये भी पढ़ें: कैबिनेट फैसलाः सरकार ने बढ़ाया ईथेनॉल का दाम, गन्ना किसानों को होगा फायदा