close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

केविन पीटरसन ने बताया, ऋषभ पंत क्यों नहीं थे टीम इंडिया की पहली पसंद

न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में हार के बाद ऋषभ पंत एक बार फिर ट्विटर पर ट्रेंड करने लग गए हैं

केविन पीटरसन ने बताया, ऋषभ पंत क्यों नहीं थे टीम इंडिया की पहली पसंद

नई दिल्ली: आईसीसी विश्व कप 2019 सेमीफाइनल में भारत की हार के बाद ऋषभ पंत एक बार फिर ट्विटर पर ट्रेंड करने लग गए हैं. दरअसल, न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में भारत का टॉप ऑर्डर बुरी तरह से लड़खड़ा गया था. सिर्फ 5 रन के स्कोर पर भारत ने अपने 3 महत्वपूर्ण बल्लेबाज खो दिये थे. चार नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे ऋषभ पंत ने अच्छी शुरुआत की और खतरनाक साबित हो रहे ट्रेंट बोल्ट को संभल कर खेलना शुरु किया. अपने स्वाभाविक खेल से विपरीत खेलते हुए पंत स्कोर को आगे ले गए लेकिन 34 रन के निजी स्कोर पर एक खराब शॉट मारकर आउट हो गए.

क्यों था पंत का विकेट अहम
ऋषभ पंत जब बल्लेबाजी करने उतरे तब भारत का स्कोर केवल 5 रन था. उस समय भारत को एक साझेदारी की जरूरत थी. हार्दिक पांड्या के साथ मिलकर इस बाएं हाथ के बल्लेबाज ने 47 रन जोड़े पर अहम समय पर मिचेल सैंटनर को अपना विकेट तोहफे में दे दिया. जिस समय पंत आउट हुए उस समय भारत का स्कोर केवल 71 रन था. बाएं हाथ के बल्लेबाज के लिए आमतौर पर लेफ्ट आर्म स्पिनर को खेलना आसान होता है और उस समय सैंटनर अपना दूसरा ही ओवर फेंक रहे थे. 71 रन पर अपना पांचवा विकेट खोने के बाद बल्लेबाजी करने उतरे महेंद्र सिंह धोनी को सैंटनर की गेंदों को समझने में वक्त लगा और रिक्वायर्ड रेट एक तरफ बढ़ता रहा. अंत में भारत यह मैच 18 रन से हार गया.  

ट्विटर पर प्रशंसको और कई पूर्व खिलाड़ियों ने जमकर की आलोचना-
 

एक प्रशंसक ने लिखा कि "ऋषभ आपकी काबिलियत पर किसी को शक नहीं है, पर अगर आप समय और परिस्थितयों के अनुसार नहीं खेलोगे तो आपके टैलेंट का कोई फायदा नहीं है".

 

एक फैन तो बीसीसीआई को टैग करते हुए लिखा कि पंत और दिनेश कार्तिक हार के असली दोषी हैं.