करीबी ही निकला DU के एग्जामिनर के घर में हुई डकैती का मुख्य आरोपी, 3 गिरफ्तार

पूछताछ में मोहम्मद चांद ने बताया कि एक बार सुनील शर्मा की बहन ने घर पर रखी नकदी और आभूषण के बारे में बताया था. वो जुआ खेलने के कारण कर्ज में डूबा हुआ था.

करीबी ही निकला DU के एग्जामिनर के घर में हुई डकैती का मुख्य आरोपी, 3 गिरफ्तार
क्राइम ब्रांच ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया.

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली में दिल्ली यूनिवर्सिटी (Delhi University) के एग्जामिनर और उसकी मां को पिस्तौल के बल पर बंधक बनाकर डकैती डालने वाले तीन बदमाशों को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच (Crime Branch) ने गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया. आरोपियों के पास से तीन लाख 77 हजार रुपये की नकदी, डकैती के पैसों से खरीदा गया मोबाइल और चांदी का सिक्का बरामद किया गया है. आरोपियों की पहचान नेहरू विहार निवासी मोहम्मद चांद, उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद के लोनी निवासी जावेद और सलीम के रूप में हुई है. इसके अलावा बाकी फरार बदमाशों की पहचान की जा चुकी है, उनको भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

क्राइम ब्रांच के डीसीपी राकेश पावेरिया ने बताया कि नेहरू विहार निवासी सुनील शर्मा ने बताया कि 26 जुलाई को पांच-छह लोगों ने उसे और उसकी बुजुर्ग मां को तमंचे के बल पर बंधक बनाकर उसके मोबाइल फोन, 14 लाख 25 हजार की नकदी, 35-40 तोला सोने के जेवरात और करीब 500 ग्राम चांदी के जेवरात लूट लिया. इस दौरान आरोपियों ने उसकी मां को घायल कर दिया. फिर दयालपुर थाना पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू की थी.

वहीं क्राइम ब्रांच ने मौके का मुआयना करके सीसीटीवी फुटेज की जांच की. मामले में संदिग्धों की जानकारी जुटाकर सीडीआर की जांच की गई. 30 जुलाई को एसआई दीपक पांडे और अशोक को सूचना मिली कि आरोपी बदमाश लूटे हुए सामान को लेकर चांद बाग में आ रहे हैं. सूचना के आधार पर इंस्पेक्टर विदेश सिंघल और विनोद अहलावत के नेतृत्व में टीम को चांद बाग के पास वजीराबाद रोड पर तैनात किया गया. यहां से पुलिस ने मोहम्मद चांद, जावेद और सलीम को पकड़ लिया. पूछताछ में मोहम्मद चांद ने बताया कि वो जुआ खेलने के कारण कर्ज में डूबा हुआ था, उस पर कर्ज चुकाने का दबाव था. वो सुनील शर्मा के के परिवार को जानता था.