सावधान! बैंक के ड्रॉप बॉक्स में भी सेफ नहीं आपका चेक, हो सकता है भारी नुकसान

बैंकों के ड्राप बॉक्स में चेक डालकर आने वालों के लिए ये खबर एक चेतावनी है. क्योंकि अब आपके एकाउंट पेई चेक भी सुरक्षित नहीं है.

सावधान! बैंक के ड्रॉप बॉक्स में भी सेफ नहीं आपका चेक, हो सकता है भारी नुकसान
प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली: बैंकों के ड्रॉप बॉक्स में चेक डालकर आने वालों के लिए ये खबर एक चेतावनी है. क्योंकि अब आपके अकाउंट पेई (Account Payee) चेक भी सुरक्षित नहीं है. हैरान करने वाला ये मामला दिल्ली के करोल बाग इलाके का है जहां निजी बैंक के ड्रॉप बॉक्स से चोरी हुआ चेक भी कैश करा लिया गया. शुरू में पुलिस ने इस मामले को लेकर मुकदमा दर्ज नहीं किया था. जिस वजह से सचिन को कोर्ट का दरवाजा खटखटाना पड़ा, लेकिन अब दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट (Tis Hazari Court) के आदेश पर पुलिस ने मुकदमा (FIR) दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

हैरान करने वाला मामला -
दरसअल सचिन नाम के एक शख्स ने शिकायत दी थी की उसने साल 2016 अप्रैल में चेक कैश कराने के लिए ओरिंएटल बैंक (Oriental Bank of Commerce) के ड्रॉप बॉक्स में डाला था. ये चेक एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) का अकाउंट पेई था. जिस चेक पर सचिन ने अपना अकाउंट नंबर भी लिखा था. जब कुछ दिन बीतने के बाद भी उसके खाते में पैसा नहीं पहुंचा तब उसे बैंक में बताया गया कि उनके स्टाफ को ड्रॉप बॉक्स में कोई चेक मिला ही नहीं था. इसके बाद सचिन उस दुकान पर गए जहां से उन्हें चेक दिया गया था. लेकिन उस दुकानदार ने बताया कि उसके खाते से लिखी गई रकम निकल चुकी है.

ये भी पढ़ें- कांग्रेस विधायक के रिश्तेदार ने की भड़काऊ पोस्ट, बेंगलुरु में हिंसा, दो की मौत, कई घायल

पीड़ित का आरोप -
इस मामले में बैंक स्टाफ की मिलीभगत की आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता है. क्योंकि यह चेक मुजफफरनगर ब्रांच यूपी (UP) से भुनाई गई थी. बैंक में पड़ताल करने पर यह बात सामने आई कि यहां सचिन नाम का शख्स ही उस चेक को लेकर आया था, जिसने तीस हजार रुपए कैश कराए थे. पीड़ित को हैरानी हुई क्योंकि यह चेक अकाउंट पेई था. यानी ऐसी स्थिति में चेक पर लिखी गई रकम खाते में ही ट्रांसफर होती है. लेकिन यहां तो बैंक ने एंकाउंट पेई चेक का नकद भुगतान कर दिया. सचिन को उम्मीद है कि पुलिस जल्द ही जालसाजी करने वाले रैकेट को अपने शिकंजे में लेगी, ताकि उसे हुए नुकसान की भरपाई हो सके. 

बैंक एक्सपर्ट की राय -
इस तरह के वित्तीय अपराधों में बैंककर्मी की भूमिका होने पर उसकी नौकरी जाने के साथ, कई धाराओं में उसे सजा का प्रावधान है.