रजनीकांत से जब सिटीजनशिप बिल पर मांगी गई राय, तो मिला ये जवाब

रजनीकांत मुंबई में अपनी फिल्म का प्रमोशन करने आए थे.

रजनीकांत से जब सिटीजनशिप बिल पर मांगी गई राय, तो मिला ये जवाब
रजनीकांत अपनी मच अवेटेड मूवी 'दरबार' का प्रमोशन करने के लिए मुंबई में मौजूद थे. (फाइल)

मुंबई: सिटीजनशिप अमेंडमेंट कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर सुपरस्टार रजनीकांत (Rajinikanth) यानी थलाइवा से जब राय मांगी गई तो उनका जवाब आश्चर्य में डालने वाला था. रजनीकांत ने इस मुद्दे पर बात करने के लिए सीधे मना कर दिया. रजनीकांत ने कहा कि यह वह जगह यह प्लेटफार्म नहीं है, जहां पर वह किसी भी राजनीतिक बात पर अपनी राय दें.

दरअसल, नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जिस तरह का माहौल देशभर में बना हुआ है उस पर थलाइवा से एक सवाल पूछा गया था. लेकिन जवाब में उन्होंने कहा कि वह यहां अपनी फिल्म का प्रमोशन करने आए हैं और सिर्फ उसी से जुड़े सवालों के जवाब देंगे.

सुपरस्टार रजनीकांत अपनी मच अवेटेड मूवी 'दरबार' का प्रमोशन करने के लिए मुंबई में मौजूद थे. ए.आर.मुरुगादास द्वारा निर्देशित यह फिल्म जनवरी में पोंगल के मौके पर रिलीज होगी.

रजनीकांत के बर्थडे पर फैंस को मिला खास तौहफा, छा गया 'दरबार' का ये LOOK!

इस फिल्म के साथ रजनीकांत पुलिस अफसर के किरदार में 25 सालों के बाद वापसी करने जा रहे हैं. उन्हें एक पुलिस अधिकारी के किरदार में आखिरी बार साल 1992 में आई तमिल फिल्म 'पंडियन' में देखा गया था. इसके अलावा साल 1982 में रिलीज हुई फिल्म 'मूंदरू मुगम' में वह एलेक्स पंडियन नामक एक पुलिस अफसर के किरदार में नजर आए थे.

फिल्म में कीर्ति सुरेश, मीना खुशबू भी महत्वपूर्ण किरदारों में हैं. डी.इम्मान इस फिल्म के संगीतकार हैं. पिछले हफ्ते फिल्म के ऑडियो को जारी किया गया.

मनोरंजन की और भी खबरें यहां पढ़ें