close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

23 साल बाद शेखर कपूर ने 'बैंडिट क्वीन' के लिए कही ये बात, ट्विटर पर दिया रामगोपाल वर्मा को जवाब...

शेखर कपूर ने कहा है कि उनके द्वारा निर्देशित फिल्म 'बैंडिट क्वीन' उनकी सबसे अच्छी फिल्म है क्योंकि साल 1994 में रिलीज हुई इस फिल्म को पूरी तरह अंतःदृष्टि से शूट किया गया था. 

23 साल बाद शेखर कपूर ने 'बैंडिट क्वीन' के लिए कही ये बात, ट्विटर पर दिया रामगोपाल वर्मा को जवाब...
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली : मशहूर फिल्म निर्माता शेखर कपूर ने कहा है कि उनके द्वारा निर्देशित फिल्म 'बैंडिट क्वीन' उनकी सबसे अच्छी फिल्म है क्योंकि साल 1994 में रिलीज हुई इस फिल्म को पूरी तरह अंतःदृष्टि से शूट किया गया था. फिल्म निर्माता राम गोपाल वर्मा ने बुधवार को शेखर कपूर के इस फिल्म की तारीफ की. फिल्म की पृष्ठभूमि फूलन देवी की जिंदगी पर आधारित थी. 

रामगोपाल वर्मा ने ट्वीट करते हुए कहा, 'हे शेखर कपूर, जब से 'बैंडिट क्वीन' रिलीज हुई है मैं इसे कई बार देख चुका हूं. मुझे हर बार यह शानदार लगी, लेकिन हर बार जब भी मैं फिर से इस फिल्म को देखता हूं तो यह मुझे और भी ज्यादा अच्छी लगती है. केवल दो ही फिल्में ऐसी हैं 'गॉडफादर' और 'बैंडिट क्वीन'.'

निर्देशन के बाद अभिनय करने उतरे राम गोपाल वर्मा, देखें फिल्म 'कोबरा' का FIRST LOOK

रामगोपाल वर्मा के इस ट्वीट का जवाब देते हुए शेखर कपूर ने लिखा, 'धन्यवाद. फिल्म को लेकर आपने जो कुछ भी कहा मैं उसकी सराहना करता हूं. मुझे लगता है कि यह मेरी सर्वश्रेष्ठ फिल्म है क्योंकि यह अंतःदृष्टि से बनाई गई है. उम्मीद करता हूं कि मैं इसी तरह एक और फिल्म बना पाऊं.'

सीमा विश्वास और निर्मल पांडेय द्वारा अभिनीत इस फिल्म ने हिंदी की सर्वश्रेष्ठ फिल्म का राष्ट्रीय पुरस्कार भी जीता है. साल 1994 के कान फिल्म महोत्सव में इसे दिखाया गया था. 

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें