close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बॉलीवुड फिल्मों के बैन की धमकी, जवाब में भारत के इस कदम से PAK के कलाकारों को पड़ सकते हैं लाले

गौरतलब है कि भारतीय फिल्मों और सीरियल की पाकिस्तान में जबर्दस्त मांग है.. पाकिस्तानी दर्शक भारतीय फिल्मों और सीरियल के दीवाने हैं. 

बॉलीवुड फिल्मों के बैन की धमकी, जवाब में भारत के इस कदम से PAK  के कलाकारों को पड़ सकते हैं लाले
महाराष्ट्र सरकार में राज्यमंत्री का दर्जा प्राप्त फिल्मसिटी के उपाध्यक्ष अमरजीत मिश्र

महाराष्ट्र: जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने से बौखलाया पाकिस्तान का रवैया खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे जैसा है. पाकिस्तान ने भारतीय राजदूत को वापस भेजने, भारत के साथ राजनीतिक संबंधों को डाउनग्रेड करने और व्यापारिक संबंधों को खत्म करने जैसे कदम उठाए हैं. इसके साथ ही पाकिस्तान के नेताओं ने धमकी दी है कि एक भी भारतीय फिल्म का प्रदर्शन पाकिस्तान के किसी सिनेमाघर में नहीं होने दिया जाएगा. इसके जवाब में महाराष्ट्र सरकार में राज्यमंत्री का दर्जा प्राप्त फिल्मसिटी के उपाध्यक्ष अमरजीत मिश्र ने भारतीय फिल्म निर्माताओं से गुजारिश की है कि पाकिस्तान के किसी भी कलाकार को भारतीय फिल्मों में एक्टिंग या गाने या किसी भी तरह का कोई काम करने का मौका ना दें.

ज़ी मीडिया से खास बातचीत में अमरजीत मिश्र ने कहा  कि कला और साहित्य के नाम पर भी पाकिस्तानी कलाकारों की पैरवी ना की जाए. उन्होंने कहा कि एक तरफ जहां पाकिस्तान के क्रिकेटर शाहिद अफरीदी से लेकर पाकिस्तानी एक्ट्रैस बीना मलिक जैसे कलाकार भारत के खिलाफ ज़हर उगल रहे हैं. ये वही लोग हैं जो भारतीय फिल्मों या भारत में काम कर पैसा और शोहरत बटोर चुके हैं.

हालांकि पिछले कुछ समय से इन्हें भारत में आकर काम करने से रोक दिया गया है लेकिन बालीवुड के कई फिल्मकार दुबई या लंडन जाकर इनके गाने रिकार्ड कर लेते हैं. ऐसे फिल्मकारों से अमरजीत मिश्र ने अपील की है कि भारत के पैसे से बड़े होंनेवाले इन कलाकारों को हिंदुस्तान की रोटी खाकर उसे ही गाली देने की इजाजत नही दी जा सकती.

गौरतलब है कि भारतीय फिल्मों और सीरियल की पाकिस्तान में जबर्दस्त मांग है.. पाकिस्तानी दर्शक भारतीय फिल्मों और सीरियल के दीवाने हैं. लेकिन पाकिस्तान जहां इन पर बैन लगाने की बात कह रहा है वहीं भारत में कुछ लोग कला के नाम पर पाकिस्तानी कलाकारों को काम करने की छूट की वकालत करते हैं.