केंद्रीय मंत्री ने मशहूर एक्टर के पिता पर की टिप्पणी, रितेश देशमुख ने दिया जवाब

रितेश देशमुख ने कहा कि वह ताज/ऑबेराय होटल गए थे, लेकिन उस वक्त नहीं जब होटल के अंदर गोलीबारी और बमबारी हो रही थी.

केंद्रीय मंत्री ने मशहूर एक्टर के पिता पर की टिप्पणी, रितेश देशमुख ने दिया जवाब
रितेश हाल ही में फिल्म 'टोटल धमाल' में दिखाई दिए थे (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने हाल ही में पंजाब के लुधियाना में कारोबारी समुदाय को संबोधित करते हुए कहा था कि महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख मुंबई हमले के वक्त अपने बेटे रितेश देशमुख के लिए बॉलीवुड फिल्म में रोल दिलवाने को लेकर चिंता कर रहे थे. इस बात पर रितेश ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक लेटर पोस्ट करके पीयूष गोयल को जवाब दिया है. उन्होंने ट्विटर पर बिना गोयल का नाम लिए हुए लिखा कि ये सच है कि वह अपने पिता के साथ ताज/ऑबेराय होटल गए थे, लेकिन ये झूठ है कि वह रितेश को किसी फिल्म में रोल दिलाने की कोशिश कर रहे थे. 

2012 में हुआ था विलासराव का निधन
रितेश ने आगे कहा कि वह ताज/ऑबेराय होटल गए थे, लेकिन उस वक्त नहीं जब होटल के अंदर गोलीबारी और बमबारी हो रही थी. उनके पिता ने कभी भी किसी फिल्म के डायरेक्टर या प्रोड्यूसर से मुझे फिल्म में लेने के लिए बात नहीं की और मुझे इस बात का गर्व है. लेटर के अंत में रितेश ने गोयल की चुनाव कैंपेनिंग के लिए शुभकामनाएं भी दी. बता दें, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और महाराष्ट्र के दो बार मुख्यमंत्री रहे विलासराव का निधन 2012 में हो गया था.   

16 साल पहले बॉलीवुड में हुई थी रितेश की एंट्री
वहीं, हाल ही में रितेश देशमुख ने कहा था कि उन्होंने कभी कल्पना नहीं की थी कि वह इंडस्ट्री में इतने लंबे समय तक बने रहेंगे. रितेश ने 16 साल पहले फिल्म 'तुझे मेरी कसम' से बालीवुड में अपनी शुरुआत की थी. उन्होंने कहा, "मैंने सोचा था कि 'तुझे मेरी कसम' मेरे करियर की पहली और आखिरी फिल्म होगी. मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं इंडस्ट्री में इतने लंबे समय तक बना रहूंगा. मैं अपने जीवन में प्राप्त हुए सभी अवसरों के लिए आभारी हूं."

रितेश ने यह भी कहा था कि यह एक बेहद रोमांचक उतार-चढ़ाव भरी यात्रा थी. उन्होंने जीवन के हर चरण में कुछ सीखा है. जब उन्होंने पहली फिल्म की तो उन्होंने सोचा भी नहीं था कि वह इंडस्ट्री में दशक भर से ज्यादा समय तक बने रहेंगा, लेकिन रितेश ने कठिन मेहनत की और फिल्म की और हर परियोजना में खुद में सुधार की कोशिश की. साल 2003 में अभिनय की दुनिया में कदम रखने के बाद रितेश ने कॉमेडी में अपनी अलग जगह बनाई. उन्होंने 'मस्ती', 'क्या कूल हैं हम', 'मालामाल वीकली', 'हे बेबी' व 'हाउसफुल' जैसी फिल्में की. रितेश हाल ही में फिल्म 'टोटल धमाल' में दिखाई दिए थे.

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें