पुजारी ने पहले पत्नी को धारदार हथियार से काटा फिर जिंदा जलाया, वजह जानकर हैरान रह जाएंगे

 पुजारी रामायण पांडेय (35 साल) को अपनी पत्नी मंदाकनी पांडेय (25 साल) के चरित्र पर संदेह था. इसी कारण उसने पहले अपनी पत्नी को धारदार हथियार से घायल किया, फिर गैस चूल्हे से आग के हवाले कर दिया.

  पुजारी ने पहले पत्नी को धारदार हथियार से काटा फिर जिंदा जलाया, वजह जानकर हैरान रह जाएंगे
सांकेतिक तस्वीर

कैलाश जायसवाल/भाटापारा: छत्तीसगढ़ के भाटापारा में सिद्धबाबा स्थित साईं मंदिर के पुजारी ने अपनी पत्नी को जिंदा जलाकर मार डाला. घटना बीती रात 9 से 10 बजे के बीच की बताई जा रही है. मिली जानकारी के मुताबित पुजारी रामायण पांडेय (35 साल) को अपनी पत्नी मंदाकनी पांडेय (25 साल) के चरित्र पर संदेह था. इसी कारण उसने पहले अपनी पत्नी को धारदार हथियार से घायल किया, फिर गैस चूल्हे से आग के हवाले कर दिया.

थाना प्रभारी भाठापारा रोशन सिंह राजपूत ने बताया कि पुजारी रामायण पांडेय ने अपनी पत्नी को मंदिर परिसर के कमरे में ही अंदर बंद कर गैस चूल्हे से आग लगाकर मार दिया. वह सुबह से ही पत्नी के साथ मारपीट कर रहा था और धारदार हथियार से उसे घायल भी कर चुका था. 

बच्चों और साला-साली भी घर पर थे मौजूद
घटना के वक्त मृतका के भाई (17 साल),बहन (15 साल) और उनके दो छोटे बच्चे भी घर पर मौजूद थे.आरोपी ने बच्चों को भी जान से मारने की धमकी देकर दूसरे कमरे में बंद किया हुआ था. घटना के वक्त जब कमरे से धुआं और जलने की बदबू आने लगी तो आस पड़ोस के लोग मंदिर की ओर दौड़े. वहां का मंजर देख पड़ोसियों ने तत्काल पुलिस को इसकी सूचना दी.

ये भी पढ़ें-बीमार बहन की मदद के लिए गई नाबालिग से गैंगरेप, चंदा मांगने के बाहने बनाया शिकार

पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर आरोपी पति को अपने अभिरक्षा में लेकर पूछताछ शुरू की. वहीं महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा. ताकि मौत का सही कारण का पता चल सके.

शक के चलते पत्नी से करता था मारपीट
जानकारी के मुताबिक पुजारी शक्की मिजाज का व्यक्ति था और अपनी पत्नी के चरित्र पर शंका करता था. जिसके कारण मृतका कभी घर से नहीं निकलती थी, बावजूद इसके पुजारी रोज उसके साथ विवाद करता था.

Watch LIVE TV-

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.