close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहारः छपरा में लापता हुए डॉक्टर के भतीजे का शव बरामद

छपरा में चिकित्सक डॉ सजल कुमार के गायब भतीजे सार्थक उर्फ गोलू का शव बरामद हुआ है.

बिहारः छपरा में लापता हुए डॉक्टर के भतीजे का शव बरामद
छपरा में डॉक्टर के भतीजे का शव बरामद हुआ है.

छपराः बिहार में छपरा शहर के जाने-माने चिकित्सक डॉ सजल कुमार के गायब भतीजे सार्थक उर्फ गोलू का शव बरामद हुआ है. गुरुवार को जय प्रकाश विश्वविद्यालय कैंपस के पीछे से संदिग्ध अवस्था में बरामद किया गया. सार्थक मकर संक्रांति के दिन से ही लापता था. 

15 जनवरी से लापता सार्थक के परिजनों ने नगर थाने में गुमशुदगी का मामला दर्ज कराया था. लेकिन अब उसकी लाश बरामद की गई है. शव बरामद होने के बाद परिवार में कोहराम मचा है. बताया जाता है कि सार्थक की तलाश के लिए पुलिस ने एसआईटी की गठन किया था. लेकिन अब उसकी शव बरामद हुई है.

शव बरामद होने के बाद मौके पर पहुंचे एसपी हरकिशोर राय ने बताया कि शव तीन से चार दिन पहले का है. प्रथमदृष्टया हत्या का मामला सामने आ रहा है. फिलहाल पुलिस जांच में जुटी है. उधर, शव मिलने की सूचना पहुंचते ही परिजनों में कोहराम मचा हुआ है.

मालूम हो कि डॉक्टर सजल कुमार का भतीजा सार्थक उर्फ गोलू मकर संक्रांति के दिन से ही अपने घर से रहस्यमयी ढंग से गायब हो गया था. सार्थक की तलाश लगातार जारी थी. इस मामले में सार्थक के पिता ने नगर थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई थी. जिसके बाद सारण एसपी ने एसआईटी का गठन किया था, लेकिन पुलिस को कोई सफलता नही मिली थी. 

गुरुवार को सार्थक का शव जयप्रकाश विश्वविद्यालय कैंपस में मिला. शव मिलने की सूचना के बाद पुलिस ने परिजनों को घटनास्थल पर बुलाया जहां शव की शिनाख्त हो सकी.

सवाल यह है कि पुलिस को समय पर सूचना मिलने के बाद भी कुछ नहीं कर सकी. एसआईटी के गठन के बाद भी सार्थक को ढूंढने में पुलिस असफल रही.