Bihar Panchayat election 2021: EC ने जारी किए निर्देश, कम्युनिकेशन शैडो जोन वाले मतदान केंद्र कि पहचान की जाए

Bihar Panchayat election 2021: आयोग ने कहा है कि 'पंचायत चुनाव के सफल संचालन के लिए सभी मतदान केंद्रों से प्रखंड, जिला और राज्यस्तर पर कम्युनिकेशन स्थापित किया जाना आवश्यक है.'

Bihar Panchayat election 2021: EC ने  जारी किए निर्देश, कम्युनिकेशन शैडो जोन वाले मतदान केंद्र कि पहचान की जाए
कम्युनिकेशन शैडो जोन वाले मतदान केंद्र कि होगी पहचान. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Patna: बिहार पंचायत चुनाव (Bihar Panchayat Chunav 2021) को लेकर कम्युनिकेशन शैडो जोन वाले मतदान केंद्र की पहचान की जा रही है. राज्य निर्वाचन आयोग ने इसको लेकर पश्चिम चंपारण, अररिया, किशनगंज, बांका, कैमूर, रोहतास, गया और जमुई के जिला निर्वाचन पदाधिकारियों (पंचायत) को निर्देश जारी किया है. 

दरअसल, इन तमाम जिलों में कई ऐसे मतदान केंद्र हैं, जहां कम्युनिकेशन की समस्या है. आयोग चाहता है कि चुनाव के दौरान इसे दुरुस्त किया जाए. आयोग ने कहा है कि 'पंचायत चुनाव के सफल संचालन के लिए सभी मतदान केंद्रों से प्रखंड, जिला और राज्यस्तर पर कम्युनिकेशन स्थापित किया जाना आवश्यक है. इसके लिए कम्युनिकेशन शैडो जोन वाले मतदान चिह्नित शैडो मतदान केंद्रों की पहचान की जाए, ताकि उन मतदान केंद्रों पर कम्युनिकेशन के लिए विशेष पंचायत के शैडो व्यवस्था की जा सके.'

ये भी पढ़ें- Bihar Panchayat election 2021: प्रत्याशियों करना होगा इंतजार, NOC के बिना नहीं होगी चुनाव की घोषणा

वहीं, आयोग ने विधानसभा चुनाव 2020 (Bihar Legislative Assembly election 2020) के दौरान जिलों द्वारा चिह्नित शैडो जोन वाले मतदान केंद्रों की लिस्ट भी संबंधित जिलों को भेजी है. 

बता दें कि बिहार में पहली बार ईवीएम से पंचायत चुनाव का निर्णय लिया गया है. इसके लिए इलेक्ट्रॉनिक कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (Electronics Corporation of India Limited) को 15 हजार ईवीएम की आपूर्ति करनी है. राज्य निर्वाचन आयोग और ईसीआईएल के बीच ईवीएम की आपूर्ति को लेकर बातचीत हो चुकी है. लेकिन, ईसीआईएल को इसके लिए केंद्रीय चुनाव आयोग का एनओसी चाहिए. जानकारी के अनुसार, चुनाव आयोग (Election Commission) और ईसीआईएल (ECIL) के बीच यह करार है कि बिना आयोग की अनुमति के वह किसी को भी ईवीएम की आपूर्ति नहीं कर सकता.

ये भी पढ़ें- Bihar Panchayat election: वोटर लिस्ट में नाम जुड़वाने का आखिरी मौका, निर्वाचन आयोग ने तेज की तैयारी