Gaya: महाबोधि मंदिर बोर्ड ने की हाईलेवल मीटिंग, लिए गए ये बड़े फैसला
X

Gaya: महाबोधि मंदिर बोर्ड ने की हाईलेवल मीटिंग, लिए गए ये बड़े फैसला

बैठक के बाद पर्यटन विभाग के सचिव संतोष कुमार मल ने कहा कि बोधगया मंदिर के सौंदर्यीकरण एवं सुरक्षा के बारे में काफी कुछ किया जा रहा है. 

Gaya: महाबोधि मंदिर बोर्ड ने की हाईलेवल मीटिंग, लिए गए ये बड़े फैसला

Gaya: बिहार के गया जिले के बोधगया स्थित महाबोधि मंदिर (Mahabodhi Mandir) के सलाहकार बोर्ड की शनिवार को आयोजित उच्चस्तरीय बैठक में कई देशों के प्रतिनिधि शामिल हुए. 

मंदिर के सौंदर्यीकरण और सुरक्षा पर ध्यान
वियतनाम के राजदूत फाम सान चाउ की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक के बाद पर्यटन विभाग के सचिव संतोष कुमार मल ने कहा कि बोधगया मंदिर के सौंदर्यीकरण एवं सुरक्षा के बारे में काफी कुछ किया जा रहा है. 

एयरपोर्ट को किया जाएगा विकसित
उन्होंने कहा कि गया में अंतरराष्ट्रीय हवाई परिवहन को और अधिक विकसित करने तथा रनवे की लंबाई बढ़ाने के लिए कार्रवाई की जा रही है. संतोष ने कहा कि ब्रह्मयोनि, डुंगेश्वरी हिल, प्रेतशिला तथा वाणावार में रोपवे की सुविधा सरकार द्वारा स्वीकृत की जा चुकी है. 

ये भी पढ़ें-नीतीश सरकार के नए ऐलान से होटल-बैंक्वेट हॉल बुक करना हुआ कठिन, ये है वजह

उन्होंने कहा कि पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय की अनुमति के बाद शीघ्र ही इस पर कार्य प्रारंभ किए जाएगा. मगध प्रमंडल के आयुक्त सह बोधगया मंदिर सलाहकार बोर्ड के सदस्य सचिव मयंक वरवड़े ने बताया कि 2020 में कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के कारण बौद्ध महोत्सव (Buddha Mahotsav) का आयोजन नहीं हो पाया था, लेकिन फरवरी 2022 में यह आयोजन प्रस्तावित है. उन्होंने कहा कि बोधगया अब पुनः पर्यटकों के लिए पहले से अधिक आकर्षक एवं नए रूप में सज-धज कर तैयार है.

नदी पर पुल बनाने का सुझाव
बैठक में शामिल गया के सांसद विजय कुमार मांझी ने पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए निरंजना नदी के दोनों किनारों पर सड़क बनाने तथा उसका सौंदर्यीकरण करने एवं नदी पर पुल बनाने का सुझाव दिया. 

गया के जिला पदाधिकारी सह बोधगया मंदिर प्रबंधन समिति (बीटीएमसी) के अध्यक्ष अभिषेक सिंह ने कहा कि बोधगया आने वाले पर्यटकों के लिए वर्तमान में विमानों की सुविधा सहित ट्रेन एवं सड़क मार्ग से परिवहन की अच्छी सुविधा उपलब्ध है. 

उन्होंने बताया कि बोधगया में 145 करोड़ रूपये की लागत से विश्व स्तर का महाबोधि कन्वेंशन सेंटर बनकर तैयार है, जिसमें दो हजार लोगों की बैठने की क्षमता है. साथ ही राजकीय अतिथि गृह का निर्माण किया जा रहा है जिसमें 100 से अधिक कमरे होंगे. 

ये भी पढ़ें-बिहार में कोविड की नई गाइडलाइन जारी, यहां चेक करें डिटेल्स

बैठक में शामिल भूटान, थाईलैंड, म्यांमा, दक्षिण कोरिया और वियतनाम के राजदूत तथा श्रीलंका के उच्चायुक्त ने 2022 में बौद्ध महोत्सव के आयोजन के प्रस्ताव पर प्रसन्नता व्यक्त की. 

बैठक में बोधगया के विधायक कुमार सर्वजीत, मगध प्रक्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक अमित लोढ़ा, बीटीएमसी के सचिव एन दोरजी एवं समिति के अन्य सदस्य सहित अन्य वरिष्ठ पदाधिकारी उपस्थित थे.

(इनपुट-भाषा) 

Trending news