close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ट्विटर के जरिए 'प्रकट' हुए तेजस्वी यादव, बताया क्यों थे 'गायब'

आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद के पुत्र और विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी ने शनिवार को ट्वीट कर चमकी बुखार के कारण मारे गए बच्चों के लिए दुख जताते हुए कहा कि इस दुखद घड़ी में आरजेडी के दबाव के कारण ही प्रधानमंत्री को बयान देना पड़ा.

ट्विटर के जरिए 'प्रकट' हुए तेजस्वी यादव, बताया क्यों थे 'गायब'
आरजेडी नेता तेजस्वी यादव के मीडिया के सामने नहीं आने पर विपक्षी दल कई तरह के सवाल खड़े कर रहे हैं.

पटना: लोकसभा चुनाव 2019 में करारी हार के बाद से ही बिहार से 'गायब' राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के वरिष्ठ नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव (Tejashwi prasad yadav) आखिरकार सार्वजनिक तौर पर लौट आए हैं. तेजस्वी ने शनिवार को एक ट्वीट कर इसकी जानकारी देते हुए कहा कि वे अपना इलाज करा रहे थे. आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद के पुत्र और विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी ने शनिवार को ट्वीट कर चमकी बुखार के कारण मारे गए बच्चों के लिए दुख जताते हुए कहा कि इस दुखद घड़ी में आरजेडी के दबाव के कारण ही प्रधानमंत्री को बयान देना पड़ा.

तेजस्वी ने एक अन्य ट्वीट में विरोधियों पर तंज कसते हुए लिखा, 'दोस्तों, पिछले कुछ सप्ताह के दौरान मैं इलाज से गुजर रहा था. फिर भी राजनीतिक विरोधियों के साथ-साथ मीडिया के एक समूह ने मुझे लेकर बनाई गई मसालेदार कहानियों को देखकर खुश हूं.'

अंग्रेजी में पढ़ें यही खबर-: 'My Dear Bihar! I'm very much here', tweets Tejashwi Yadav day after rivals question his absence

'हम हमेशा आपके साथ रहेंगे'
तेजस्वी ने एक और ट्वीट में कहा, "हम उन लोगों के प्रति जवाबदेह हैं, जो हममें एक समाजवादी, धर्मनिरपेक्ष और सामाजिक न्याय के विकल्प की तलाश में हैं. मैं उन सभी लोगों को विश्वास दिलाता हूं कि हम यहां हैं और हमेशा उनके साथ हैं. हाल के घटनाक्रम ने मुझे एक अलग तरीके से चीजों का अध्ययन, छानबीन, विश्लेषण और मूल्यांकन करने में मदद की है."

उल्लेखनीय है कि लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद आरजेडी की 29 मई को हुई समीक्षा बैठक के बाद तेजस्वी 'अज्ञातवास' पर चले गए थे, जिसकी जानकारी उनकी पार्टी के नेताओं को भी नहीं थी. तेजस्वी के इस ट्वीट के बाद माना जा रहा है कि इस मामले का पटाक्षेप हो जाएगा.

तेजस्वी के सवाल पर झल्ला गई थीं राबड़ी
बिहार विधानमंडल के मानसून सत्र के पहले दिन शुक्रवार को विधानसभा में विपक्ष के नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव भाग लेने नहीं पहुंचे. इस संबंध में जब उनकी मां और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी से पूछा गया तो वह पत्रकारों पर ही झल्ला उठी. उन्होंने पत्रकारों से कहा कि तेजस्वी आपके ही घर में हैं. राबड़ी देवी विधान परिषद की कार्यवाही में शामिल होने पहुंची, तब आरजेडी के सदस्यों ने उनका स्वागत किया. 

इस दौरान पत्रकारो ने जब राबड़ी देवी से तेजस्वी यादव के संबंध में पूछा तो उन्होंने झल्लाते हुए कहा, "तेजस्वी आपके ही घर में हैं."

इधर, आरजेडी विधायक भाई वीरेंद्र ने कहा कि आरजेडी नेतृत्वविहीन नहीं है. उन्होंने कहा, "वे नहीं होंगे तो उनकी जगह कोई और संभालेगा." उन्होंने हालांकि यह भी कहा कि जल्द ही तेजस्वी यादव आएंगे. इससे पहले आरजेडी के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद ने कहा था कि तेजस्वी शायद क्रिकेट मैच देखने लंदन गए गए हैं. उनके इस बयान के बाद से ही विरोधी तरह-तरह के बयान दे दे रहे थे.