इटली और टर्की की मशीनों से होगी राजधानी पटना की सड़कों की सफाई

राजधानी पटना की सड़कें स्वीपिंग मशीनों के जरिए साफ की जाएगी. 

इटली और टर्की की मशीनों से होगी राजधानी पटना की सड़कों की सफाई
पटना की सड़कों को स्वीपिंग मशीन से साफ की जाएगी.

प्रीतम कुमार/पटनाः अब राजधानी पटना की सड़कें स्वीपिंग मशीनों के जरिए साफ की जाएगी. करोड़ों रुपये खर्च कर इन स्वीपिंग मशीनों को टर्की और इटली से मंगाया गया है. यानि पटना की सड़कें भी अब सफाई के मामले में हैदराबाद, चंडीगढ़ को टक्कर देती नजर आएंगी.

राजधानी पटना में नगर निगम क्षेत्र की सड़कों की सफाई कर्मचारी नहीं बल्कि मशीन के जरिए होगी. नगर निगम ने खास तौर से टर्की और इटली से इन मशीनों को मंगाया है. दरअसल, राजधानी पटना में निगम में सफाई कर्मचारियों के होने के बावजूद रोजाना सड़कें साफ नहीं हो पा रही थी. जिस वजह से राजधानी के कुछ खास इलाके में सड़कें साफ दिखती थी. बाकी इलाकों में सड़कों पर गंदगी का अंबार रहता था.

अब निगम ने इस तस्वीर को बदलने का फैसला किया है. पटना नगर निगम के मुताबिक, जल्द ही इन मशीनों का उद्घाटन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के द्वारा किया जाएगा. जिसके बाद मशीनें सड़कों पर उतारी जाएंगी. मुख्यमंत्री से इन मशीनों के उद्घाटन के लिए समय मांगा जा रहा है.

पटना नगर निगम ने 10 स्वीपिंग मशीनें इटली और टर्की से मंगायी है. जिसमें से 5 मशीनें आ चुकी हैं और पांच मशीनें अभी आना बाकी है. जो मशीन इटली से मंगाई गई हैं उसका नाम डूलेवो है और जो मशीन टर्की से मंगाई गई है उसका नाम सेक्शन है. एक डूलेवो मशीन की कीमत 1 करोड़ 85 लाख रुपये है.

निगम की योजना कुल 10 मशीनें मंगाने की है. सभी मशीनें टर्की और इटली से मंगाई जा रही है. बड़ी मशीन जो इटली से मंगाई गई है उसका नाम डूलेवो (DULEVO) है. 6 में से 3 मशीने पटना आ चुकी है. जबकि 3 और आनी बाकी है. इसी तरह टर्की से सेक्शन (CEKSAN) नाम की छोटी स्वीपिंग मशीनें मंगाई गई हैं. 4 सेक्शन मशीनें मांगी गई है जिसमें से 2 आ चुकी और 2 आना बाकी है.

बताया जाता है कि यह मशीनें INS विक्रमादित्य के फाइटर जेट्स मिग-21 प्लेन में भी इस्तेमाल होती हैं. फाइटर जेट्स के रबर में लगी धूल और मिट्टी इसी के जरिए साफ होती है.