Jamshedpur में ट्रैफिक नियम तोड़ना पड़ेगा भारी, नशे के खिलाफ पुलिस चलाएगी अभियान

जमशेदपुर में ट्रैफिक व्यवस्था दुरुस्त करने और जिले को नशा मुक्त करने को लेकर कोल्हान डीआईजी राजीव रंजन सिंह के नेतृत्व में एक बैठक का आयोजन किया गया.

Jamshedpur में ट्रैफिक नियम तोड़ना पड़ेगा भारी, नशे के खिलाफ पुलिस चलाएगी अभियान
Jamshedpur में ट्रैफिक नियम तोड़ना पड़ेगा भारी (फाइल फोटो)

Jamshedpur: जमशेदपुर में ट्रैफिक व्यवस्था दुरुस्त करने और जिले को नशा मुक्त करने को लेकर कोल्हान डीआईजी राजीव रंजन सिंह के नेतृत्व में एक बैठक का आयोजन किया गया. इस बैठक में मुख्य रूप से सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट, एएसपी सिटी कुमार गौरव, ट्रैफिक डीएसपी बबन सिंह और आदित्यपुर थाना प्रभारी मौजूद रहे. 

इस दौरान झारखंड सरकार द्वारा मोटर व्हीकल एक्ट में हुए बदलाव की समीक्षा की गई. इसके अलावा शहर में बढ़ रहे नशीले पदार्थ की बिक्री को रोकने पर भी चर्चा हुई. कोल्हान डीआईजी राजीव रंजन सिंह ने बताया कि राज्य सरकार ने एमवी एक्ट में बदलाव किया है, जिसके बाद से ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों पर भारी जुर्माने का प्रावधान है. कुछ नियम तोड़ने पर जेल भी हो सकती है. 

उन्होंने बताया कि यदि कोई व्यक्ति शराब पीकर वाहन चलाता है, तो उसके विरुद्ध नियम के अनुसार कार्रवाई की जाएगी. जिसमे उसे गिरफ्तार करते हुए वाहन जब्त कर न्यायलय में अभियोजन प्रस्ताव भेजा जाएगा. कोई भी व्यक्ति रैश ड्राइविंग करते पकड़ा गया, तो उसे भी जेल भेजा जाएगा. इस मामले में ट्रैफिक सिग्नल तोड़ना, वाहन चलाते समय मोबाइल का इस्तेमाल कर्ण, गलत तरीके से ओवरटेक करना आदि शामिल है. 

उन्होंने आगे कहा कि इसके अलावा कोई भी व्यक्ति वाहन मालिक के बिना अनुमति के वाहन चलाता हुआ पकड़ा गया, तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने कहा कि कोई भी अभिभावक अपने नाबालिग बच्चे को वाहन चलाने देते है, तो ऐसे अभिभावकों से 25 हजार रुपया जुर्माना लग जायेगा. वाहन चलाने वाले नाबालिग और वाहन मालिक के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. जिसको लेकर आगामी तीन दिनों तक जागरूकता अभियान चलाया जाएगा.

नशीले पदार्थ की जानकारी पुलिस को दें

कोल्हान डीआईजी राजीव रंजन सिंह ने बताया कि सरायकेला खरसावां और पूर्वी सिंहभूम जिले को नशा मुक्त करना है. इसी को लेकर 26 जून को अंतरराष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस के दिन से 15 दिनों तक नशीले पदार्थ की बिक्री के खिलाफ मेगा अभियान चलाया जाएगा. इसके लिए एएसपी कुमार गौरव के नेतृत्व में एक टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा जिसमें 20 सदस्य होंगे.. इन टास्क फोर्स द्वारा जिन क्षेत्रों में नशीले पदार्थ ज्यादा बिकते है, उसे रोकने के लिए छापेमारी की जाएगी. 

ये भी पढ़ें- CM नीतीश के दिल्ली दौरे पर विपक्ष का सवाल, 'क्या मोदी कैबिनेट में शामिल हो रही है JDU?'

उन्होंने आगे कहा कि इसे रोकने के लिए आमजन जो नशे से संबंधित जानकारी पुलिस को देना चाहते हैं, वे लोग 7091091825 पर वीडियो या फोटो खींचकर भेज सकते है. वैसे लोग जो भारी मात्रा में नशीले पदार्थ पकड़वाएंगे, उनकी जानकारी गुप्त रखी जायेगी और उन्हें सरकार की ओर से रिवार्ड भी दिया जाएगा.