जीतनराम मांझी ने कहा- 'कल होगा अंतिम फैसला, 5 सीट मिली तो समस्या दूर हो जाएगी'

संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद जीतनराम मांझी ने कहा है कि कल सीटों को लेकर अंतिम फैसला किया जाएगा.

जीतनराम मांझी ने कहा- 'कल होगा अंतिम फैसला, 5 सीट मिली तो समस्या दूर हो जाएगी'
जीतनराम मांझी ने संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद प्रेसवार्ता किया.

पटनाः बिहार महागठबंधन के सहयोगी दल हम पार्टी के प्रमुख जीतनराम मांझी ने कहा है कि उन्हें पांच सीट मिल जाती तो मेरी सारी समस्या दूर हो जाती है. हम पार्टी की ओर से शनिवार को संसदीय बोर्ड की बैठक बुलाई गई थी. जिसके बाद जीतनराम मांझी ने प्रेसवार्ता कर कहा कि उनकी बात तेजस्वी यादव और शक्ति सिंह गोहिल से बात हुई है. कांग्रेस की 11 सीट होगी यह अभी तय नहीं हुआ है. कांग्रेस ने केवल संसदीय बोर्ड को अनुसंशा की गई है. हमारी बात 3 से 4 सीटों पर हुई है.

जीतनराम मांझी ने कहा कि हमारा जानाधार आरजेडी के बाद बिहार में सबसे अधिक है. उन्होंने यह भी कहा कि अगर कांग्रेस से तुलना करें तो उनसे भी कम हमारी जनाधार नहीं है. उन्होंने कहा कि अगर पांच सीट मिल जाती है तो हमारी समस्या खत्म हो जाएगी. इसमें 3-4 सीटों पर बात हो गई है एक या दो सीटों पर बात बननी बांकी है.

मांझी ने कहा कि तेजस्वी यादव अभी दिल्ली में उनसे बात हुई है. रविवार को तेजस्वी यादव पटना आएंगे और उसके बाद फाइनल बात की जाएगी. जिसमें आरएलएसपी और वीआईपी पार्टी से भी बात की जा सकती है. जिसके बाद कल हर हाल में महागठबंधन के सीटों का ऐलान किया जाएगा.

मांझी ने कहा कि अगर एनडीए सीट के उम्मीदवार का ऐलान कर देगी तो महागठबंधन अगले घंटे में ही प्रत्यासियों की घोषणा कर देगी. वहीं, कांग्रेस के 11 सीटों की बात पर उन्होंने कहा कि यह केवल राज्य की ओर से अनुसंशा की गई है अभी केंद्र से मुहर लगना बांकी है. साथ ही उन्हें कांग्रेस नेता अखिलेश सिंह के 11 सीटों के बयान को खारिज करते हुए कहा कि वह केंद्रीय संसदीय बोर्ड के सदस्य नहीं है.

जीतनराम मांझी ने कहा कि 5 सीटों को लेकर हमने दावेदारी की है. जिसमें जातिय, क्षेत्रिय और लिंग समीकरण की बात की गई है. हमने अनुसूचीत जाती से लेकर महिलाओं के वोट तक की समीकरण की बात कर 5 सीटों का दावा किया है. जिसमें 3-4 सीटों पर बात हो गई है.

वहीं, जब उनसे पूछा गया कि अगर उन्हें तीन सीट दी जाती है तो वह क्या करेंगे, तो मांझी ने जवाब दिया कि वह फिर से संसदीय बोर्ड की बैठक करेंगे. उसमें जो भी बोर्ड फैसला लेगी उसी अनुसार आगे काम किया जाएगा.

संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष संतोष कुमार सुमन ने बताया कि आने वाले चुनाव में प्रत्याशियों के चयन के लिए जीतनराम मांझी को अधिकृत किया गया है. उन्होंने बताया कि बोर्ड ने संभावित सीटों को लेकर और महागठबंधन में जो स्थिति है उस पर विचार किया गया.