close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लवली आनंद ने की मदन मोहन झा से मुलाकात, ज्वाइन कर सकती हैं कांग्रेस

लवली आनंत और मदन मोहन झा की मुलाकात के बाद कयासों का दौर जारी है कि वह कांग्रेस में शामिल हो सकती है.

लवली आनंद ने की मदन मोहन झा से मुलाकात, ज्वाइन कर सकती हैं कांग्रेस
लवली आनंद ने मदन मोहन झा से मुलाकात की है.

आशुतोष चंद्रा/पटनाः बिहार में लोकसभा चुनाव के मद्देनजर नेताओं में दल बदल की राजनीति जारी है. नेता खुद को सेट करने के लिए जुगत में लग चुके हैं. इसके लिए मुलाकातों का दौर भी जारी है. हालांकि दूसरे दल के नेताओं से मीटिंग को औपचारिक बता रहे हैं. ऐसी ही एक तस्वीर बिहार कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा के घर पर रविवार को देखने को मिली. मदन मोहन झा से पूर्व सांसद लवली आनंद ने मुलाकात की है.

लवली आनंत और मदन मोहन झा की मुलाकात के बाद कयासों का दौर जारी है कि वह कांग्रेस में शामिल हो सकती है. वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष ने भी कहा है कि अगर लवली आनंद कांग्रेस से चुनाव लड़ना चाहेंगी तो वे आलाकमान से बात करेंगे. जिसके बाद साफ हो गया है कि लवली आनंद कांग्रेस ज्वाइन करने के लिए सोच रही है और इसका फैसला भी जल्द ले सकती हैं.

इससे पहले सांसद अरुण कुमार ने भी कांग्रेस नेताओं से मुलाकात की थी. जिसके बाद लवली आनंद ने भी कांग्रेस से संपर्क किया है. लवली आनंद रविवार की सुबह बिहार कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा के आवास पर मिलने के लिए पहुंची थी. दोनों नेताओं के बीच लगभग आधे घंटे तक मुलाकात चली. 

मुलाकात के बाद लवली आनंद ने कहा कि ये महज औपचारिक मुलाकात थी. चूंकि मदन मोहन झा से उनके पुराने ताल्लुकात रहे हैं. अध्यक्ष बनने के बाद भी उनसे मुलाकात नहीं हो सकी थी. इसलिए नव वर्ष में उन्हें बधाई देने आई हैं. हालांकि चुनाव लड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा कि उन्हें चुनाव लड़ना भी है और लोगों को चुनाव लड़ाना भी है. लेकिन चुनाव लड़ने वाली पार्टी कांग्रेस ही होगी के सवाल पर लवली आनंद जवाब नहीं दिया.

इधर कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा ने भी इस मुलाकात को सियासी मुलाकात मानने से साफ इन्कार कर दिया. हलांकि मदन मोहन झा ने ये जरुर कहा कि लवली आनंद पूर्व सांसद रही हैं. उनका अपने क्षेत्र में मजबूत पकड रहा है. ऐसे में अगर वो कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लडना चाहेंगी तो वे आलाकमान से इस मामले पर बात करेंगे.

लवली आनन्द 1994 में वैशाली से बिहार पिपुल्स पार्टी से सांसद बनी थीं. बाढ़ और नवीनगर से विधायक भी रह चुकी हैं. उनके पति आनन्द मोहन 1996 में शिवहर से सांसद बने थे. बीपीपा का समता पार्टी में विलय के बाद समता पार्टी से जीते थे. 1998 में राजपा (शंकर सिंह वाघेला की पार्टी, गुजरात ) से जीते.