लखीसराय: नक्सलियों ने CPI नेता को किया रिहा, 6 दिसंबर को किया था अगवा

 सीपीआई नेता मदन मोहन सिंह को बीते 6 दिसंबर को नक्सलियों ने अगवा कर लिया था. पांच दिनों से मदन मोहन सिंह नक्सलियों के चंगुल में थे

लखीसराय: नक्सलियों ने CPI नेता को किया रिहा, 6 दिसंबर को किया था अगवा
सीपीआई नेता मदन मोहन को नक्सलियों ने 6 दिसंबर को अगवा कर लिया था.

लखीसराय: माओवादियों द्वारा अपहृत किए गए भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (CPI) के नेता मदन मोहन को रिहा करा लिया गया है. सीपीआई नेता की रिहाई के लिए लखीसराय पुलिस लगातार छापामारी अभियान चला रही थी. इस मामले को डीआईजी मनु महराज खुद मॉनिटरिंग कर रहे थे. वहीं, एसपी सुशील कुमार के नेतृत्व में लगातार सर्च ऑपरेशन चल रहा था.

बता दें कि बिहार के लखीसराय जिले के पीरी बाजार थाना के घोघी गांव से सीपीआई नेता मदन मोहन सिंह को बीते 6 दिसंबर को नक्सलियों ने अगवा कर लिया था. पांच दिनों से मदन मोहन सिंह नक्सलियों के चंगुल में थे. उनकी रिहाई के लिए पीरी बाजार से सटे जंगली इलाकों में नक्सलियों के ठिकाने पर लगातार छापेमारी चल रही थी.

बुधवार की शाम पुलिस जंगल से छापेमारी कर वापस लौटी थी. मुंगेर डीआइजी मनु महाराज खुद छापेमारी अभियान की मॉनिटरिंग कर रहे थे. पुलिस की कार्रवाई शांत होने पर देर रात घर के पास लाकर नक्सलियों ने अपहृत को मुक्त कर दिया.

डीआईजी मनु महाराज ने कहा कि मदन मोहन सिंह की रिहाई पुलिस दबिश के कारण नक्सलियों ने की है. उन्होंने नक्सलियों द्वारा लेबी लेकर छोड़ने की बात से इंकार किया है. उन्होंने साफ तौर पर कहा कि आगे भी नक्सलियों के विरुद्ध कार्रवाई जारी रहेगी.