close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

NRI डॉक्टर ने कहा- बिहार में फैले AES का इलाज है, किया जा सकता है कंट्रोल

बिहार के ही एक एनआरआई डाक्टर का दावा है कि इंसेफ्लाइटिस की बीमारी को दूर किया जा सकता है. 

NRI डॉक्टर ने कहा- बिहार में फैले AES का इलाज है, किया जा सकता है कंट्रोल
एनआरआई डाक्टर का दावा है कि इन्सेफलाइटिस की बीमारी को दूर किया जा सकता है

पटनाः बिहार में इन्सेफलाइटिस से हुई 100 से ज्यादा बच्चों की मौत ने पूरे देश को हिला कर रख दिया है. सरकार का दावा है कि वैज्ञानिक भी बीमारी का हल नहीं ढूंढ पा रहे हैं. लेकिन बिहार के ही एक एनआरआई डाक्टर का दावा है कि इन्सेफलाइटिस की बीमारी को दूर किया जा सकता है. 

लंदन सैंट जार्जिया हॉस्पीटल के कार्डियोलॉजिस्ट डॉ राजय नारायण का दावा है कि बिहार में तेजी से फैल रही इस बीमारी पर काबू पाया जा सकता है. जी मीडिया से बातचीत में डाक्टर राजय ने बताया कि बीमारी का मुख्य कारण कुपोषण है. सरकार अगर गांवों में कुपोषण जैसी समस्या पर काबू कर लेती है तो बीमारी पर कंट्रोल पाया जा सकता है.

राज्य में कुपोषण को दूर करने के लिए कई योजनाएं चल रही हैं लेकिन जनीनी स्तर पर कमियां रहने की वजह से ही ऐसे हालात आ रहे हैं. डाक्टर ने राजय ने बताया कि बिहार सरकार के डिप्टी सीएम सुशील के साथ बिहार की स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाये जाने को लेकर उनकी मीटिंग भी हुई है. सरकार भी यह कोशिश कर रही है कि जल्द से जल्द बिहार के लोगों को सही चिकित्सा सुविधा मुहैया कराया जाए.

वहीं, दूसरी तरफ डाक्टर राजय ने बताया कि पूरे विश्व में कुछ ऐसी बिमारीयां हैं जिनसे सबसे ज्यादा लोगों की मौत हो रही है. जिनमें हार्ट अटैक, स्ट्रोक, सुगर से लोग सबसे ज्यादा प्रभावित हैं. और आनेवाले समय में इन्हीं बीमारियों से सबसे ज्यादा मौतें होंगी. इसके लिए जरुरी है कि लोग अपना खानपान सादा रखें और आधे घंटे एक्सरसाईज के लिए जरुर निकालें. डाक्टर राजय स्वास्थ्य मंत्रालय केन्द्र सरकार के इंटरनेश्नल डिविजन में सलाहकर के रुप में भी काम कर रहे हैं.