close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: लखीसराय में पटरी से उतरी पैसेंजर ट्रेन, सभी यात्री सुरक्षित

किऊल से गया जाने वा पैसेंजर ट्रेन की चपेट में एक भैंस के आने से ट्रेन बेपटरी हो गई. गनीमत रही कि इस हादसे में किसी तरह की हताहत नहीं हुई है.

बिहार: लखीसराय में पटरी से उतरी पैसेंजर ट्रेन, सभी यात्री सुरक्षित
हादसा इतना भयावह था कि पटरी पर चल रही ट्रेन डाउन लाइन पर आ गई.

लखीसराय: बिहार के किऊल-गया रेलखंड के कुरौता पतनेर स्टेशन पर बड़ा रेल हादसा (Train Accident) टल गया है. किऊल से गया जाने वा पैसेंजर ट्रेन (Passenger Train) की चपेट में एक भैंस के आने से ट्रेन बेपटरी हो गई. गनीमत रही कि इस हादसे में कोई के हताहत नहीं हुए.

हादसा इतना भयावह था कि पटरी पर चल रही ट्रेन डाउन लाइन पर आ गई. गनीमत यह रही कि डाउन लाइन पर पहले से खड़ी मालगाड़ी से टकराने से मेमू ट्रेन बच गई. घटना के बाद मौके पर किऊल से रेलवे के अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं. फिलहाल किऊल-गया रेलखंड पर परिचालन बाधित है और मरम्मत का काम शुरू कर दिया गया है.

 

ट्रेन के चालक एस.सी.गुप्ता के मुताबिक, पहले से करौता रेलवे हॉल्ट के डाउन ट्रैक पर मालगाड़ी रुकी हुई थी. इसी बीच किऊल-गया पैसेंजर ट्रेन किऊल की ओर से आ रही थी. हॉल्ट में प्रवेश करने के पूर्व एक भैंस ट्रैक पर आ गई, जिसके कारण इमरजेंसी ब्रेक लगाया गया. इससे गाड़ी बेपटरी होकर डाउन ट्रेक पर चली गई. इमरजेंसी ब्रेक के कारण मालगाड़ी से ट्रेन टकराने से बच गई. इस दौरान किऊल-गया पैसेंजर मेमू ट्रेन रेलवे ट्रैक से नीचे उतर गई.

ट्रेन की चपेट में आने से भैंस की तो मौत हो गई, लेकिन दोनों ट्रेनें आपस में टकराने से बच गईं. घटना के समय यात्रियों में अफरा-तफरी की स्थिति हो गई. ट्रेन के ट्रैक से नीचे उतरने के कारण किऊल-गया रेल खंड में रेल परिचालन पूरी तरह से बाधित हो गया है.

घटना की जानकारी मिलते ही दानापुर रेलमंडल के डीआरएम रंजन प्रकाश ठाकुर भी मौके पर पहुंचे. वह फिलहाल कुरौता पतनेर स्टेशन पर डिरेल मामले की जांच कर रहे हैं. जांच के दौरान डीआरएम मीडियाकर्मियों पर भी भड़क गए.