Patna HC में अदालतों को फिजिकली खोलने के लिए याचिका दायर, कोविड के कारण लगी है रोक

Patna High Court News: याचिका में यह भी कहा गया है कि जम्मू-कश्मीर में अदालती कामकाज फिजिकल रूप से चल रहा है. इलाहाबाद हाईकोर्ट में भी 14 जुलाई से फिजिकल कोर्ट प्रारम्भ किया जाने वाला है.  

Patna HC में अदालतों को फिजिकली खोलने के लिए याचिका दायर, कोविड के कारण लगी है रोक
Patna HC में अदालतों को फिजिकली खोलने के लिए याचिका दायर. (फाइल फोटो)

Patna: पटना हाईकोर्ट (Patna High Court) समेत राज्य के जिला व निचली अदालतों में फिजिकल कोर्ट शुरू करने के लिए पटना हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है. यह याचिका वेटरन फोरम फॉर ट्रांसपेरेंसी इन पब्लिक लाइफ (Veterans Forum for Transparency in Public Life) की ओर से दायर की गई है.

कोर्ट में नहीं हो रही फिजिकल सुनवाई
कोरोना (Corona) महामारी के कारण पिछले साल मार्च महीने से अब तक पटना हाईकोर्ट व अन्य अदालतों में सामान्य कामकाज लगभग ठप्प हो गया है. इस वर्ष 4 जनवरी से पटना हाईकोर्ट में फिजिकल कोर्ट प्रारम्भ हुआ था, लेकिन Covid की दूसरी लहर आने के बाद वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मामलों की सुनवाई की जाने लगी. लेकिन इससे कोर्ट के कामकाज में सामान्य रूप नहीं हो पा रहा है.

ये भी पढ़ें- बिहार से 3 महिलाओं को भेजा जाएगा वापस बंग्लादेश, केंद्र ने HC में दिया जवाब

याचिका में यह भी कहा गया है कि जम्मू-कश्मीर में अदालती कामकाज फिजिकल रूप से चल रहा है. इलाहाबाद हाईकोर्ट में भी 14 जुलाई से फिजिकल कोर्ट प्रारम्भ किया जाने वाला है. राज्य में कोरोना महामारी की स्थिति में सुधार को देखते हुए राज्य सरकार ने प्रतिबंधों में काफी ढील दे दी है. बाजार, मॉल, स्कूल कॉलेज, आदि  Covid-19 दिशानिर्देशों का पालन करते हुए खोले जाने लगे हैं. ऐसी स्थिति में पटना हाईकोर्ट समेत राज्य के जिला और निचली अदालतों में भी सामान्य अदालती कामकाज शुरू किया जाना चाहिए.

कोर्ट के सामान्य रूप से काम नहीं करने के कारण जहां वकीलों व उनके साथ काम करने वाले कर्मचारियों की आर्थिक कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है, वहीं मुकदमा लड़ने वालों को भी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. लगभग तीस हजार वकील अपने गांव घर चले गए हैं.