close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रामविलास पासवान पर RJD का पलटवार, कहा- हिम्मत है तो परिवार के एक सदस्य को जिता कर दिखाएं

रामविलास पासवान के द्वारा स्वर्णो के आरक्षण को लेकर आरजेडी पर निशाना साधा था. जिसके बाद आरजेडी नेता ने रामविलास पासवान पर पलटवार किया है. 

रामविलास पासवान पर RJD का पलटवार, कहा- हिम्मत है तो परिवार के एक सदस्य को जिता कर दिखाएं
आरजेडी नेता ने रामविलास पासवान पर निशाना साधा है.

रूपेन्द्र श्रीवास्तव/पटनाः केंद्र मंत्री रामविलास पासवान के द्वारा स्वर्णो के आरक्षण को लेकर आरजेडी पर निशाना साधा था. जिसके बाद आरजेडी नेता ने रामविलास पासवान पर पलटवार किया है. आरजेडी प्रवक्ता राजेंद्र राम ने कहा कि रामविलास पासवान डर से अपने लिए राज्यसभा सीट सुरक्षित करा लिया है. उन्होंने कहा कि अगर हिम्मत है तो परिवार के एक भी सदस्य को जिता कर दिखाएं.

राजेंद्र राम ने रामविलास पासवान को रणछोड़ नेता बताया और कहा कि वह डरे हुए हैं. इसलिए अपने लिए राज्यसभा की सीट सुरक्षित करा ली. एलजेपी की टिकट पर जो भी लड़ेगा उसकी जमानत जप्त हो जाएगी. अगर हिम्मत है तो परिवार के किसी भी सदस्य को जिता कर दिखाएं.

वहीं, आरजेडी के इस बयान के बाद एलजेपी के प्रवक्ता अशरफ अंसारी ने कहा की उनकी नेता की औकात नहीं है कि रामविलास पासवान के बारे में इस तरह की भाषा का प्रयोग करें. आरजेडी की हालत दिन प्रतिदिन बदतर होती जा रही है. पहले आरजेडी अपने घर में झांके फिर किसी और के घर में झांकने की कोशिश करें. आरजेडी अपना कुनबा बचाने में लगी है, यहां भाई कहीं और माई कहीं और बेटी कहीं और है.

वहीं, इस बयानबाजी के दौर में पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी भी चुप नहीं रहे और कहा रामविलास पासवान जितना बोलते हैं अब उनकी इतनी बड़ी कद नहीं रह गई है. 

आरजेडी के द्वारा रामविलास पासवान पर दिए गए बयान को लेकर जेडीयू और बीजेपी ने निशाना साधा है. जेडयू के प्रवक्ता नीरज कुमार ने कहा है कि जिसके नेता को न्यायपालिका ने जीरो पर आउट कर दिया तो उस पार्टी को जीरो पर आउट होना तय है. आरजेडी को राजनीतिक लज्जा महसूस करनी चाहिए. जिसके नेता ही होटवार जेल में है वह कहां से चुनाव लड़ेंगे. 

बिहार सरकार में बीजेपी कोटे से मंत्री रमेश ऋषि देव ने कहा की आरजेडी के नेता ही खुद अनुकंपा पर राजनीति कर रहे हैं. अनुकंपा पर रहने वाले का भविष्य क्या होता है किसी से छुपा नहीं है.

बिहार में आरजेडी हमेशा अगड़ी पिछड़ी कर राजनीति की है लेकिन पीएम मोदी की इस मास्टर स्ट्रोक से आरजेडी का वोट बैंक कहीं न कहीं खिसकता दिख रहा है. यही कारण है की लगातार स्वर्ण आरक्षण का विरोध कर रहा है.