close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रॉबर्ट वाड्रा के प्रतिनिधि के रूप में हुई है प्रियंका की राजनीति में एंट्रीः सुशील मोदी

बीजेपी नेता प्रियंका गांधी के राजनीतिक एंट्री पर बयान दे रहे हैं. बिहार में भी इस पर सियासत तेज हो गई है.

रॉबर्ट वाड्रा के प्रतिनिधि के रूप में हुई है प्रियंका की राजनीति में एंट्रीः सुशील मोदी
सुशील मोदी ने प्रियंका गांधी के राजनीतिक एंट्री पर बयान दिया है.

नई दिल्लीः प्रियंका गांधी वाड्रा को कांग्रेस में आधिकारिक तौर पर जगह दी गई है. उन्हें पार्टी का महासचिव बनाया गया है. इसके बाद से देश की राजनीति में बयानबाजी का दौर शुरू हो गया है. जहां एक ओर कांग्रेस के अंदर प्रियंका के आधिकारिक तौर पर शामिल होने से खुशी है. वहीं, सत्तापक्ष की ओर से लगातार तंज कसा जा रहा है. बिहार में भी इसे लेकर अलग-अलग तरह के बयान आ रहे हैं. हालांकि कुछ विवादित बयान भी सामने आ रहे हैं.

बिहार के उपमुख्यमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने प्रियंका के महासचिव बनने पर कहा है कि प्रियंका गांधी कांग्रेस में एंट्री उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा को डराने के लिए की गई है. क्योंकि सपा-बसपा ने कांग्रेस को छोड़ दिया है.

उन्होंने यह भी कहा कि प्रियंका राजनीति में रॉबर्ट वाड्रा के प्रतिनिधि के रूप में की है. जिससे की वाड्रा से जुड़े मामले को लाइम लाइट में लाया जा सके.

इससे पहले सुशील मोदी ने ट्विट कर कहा था कि किसी की तरह दिखने से अगर कोई उसके जैसा काबिल हो जाता तो हमारे पास कई अमिताभ बच्चन और कई विराट कोहली होते. राजनीति में भी डुप्लीकेट नहीं चलता. प्रियंका गांधी भले इंदिरा जी की तरह दिखती हैं, लेकिन एक बड़ा फर्क है. इंदिरा जी के पति फिरोज गांधी अच्छे वक्ता और ईमानदार सांसद थे. वह अपने ससुर के खिलाफ बोल सकते थे, जबकि प्रियंका के व्यवसायी पति का जमीन घोटाला दो राज्यों तक फैला है. और वह जांच का सामना कर रहे हैं.

वहीं, प्रियंका गांधी के ऊपर बीजेपी के नेता विनोद नारायण झा के बयान से बिहार में राजनीतिक बवाल मच गया है. विनोद नारायण झा ने कहा है कि प्रियंका बेहद खूबसूरत हैं, लेकिन उसके अलावा उनकी कोई राजनीतिक उपलब्धि नहीं है. सुंदर चेहरों के आधार पर वोट नहीं जीते जा सकते. साथ ही वह वाड्रा की पत्नी हैं जो भूमि घोटाले और भ्रष्टाचार के आरोपी हैं.