तेजस्वी यादव से मिलने पहुंचे तेजप्रताप यादव, मुलाकात के बाद कहा...

आरजेडी नेता तेजप्रताप यादव शनिवार देर शाम को तेजस्वी यादव से मिलने के लिए उनके पटना स्थित आवास पर पहुंचे थे.

तेजस्वी यादव से मिलने पहुंचे तेजप्रताप यादव, मुलाकात के बाद कहा...
तेजप्रताप यादव भाई तेजस्वी यादव से मुलाकात की है. (फाइल फोटो)

पटनाः आरजेडी नेता तेजप्रताप यादव शनिवार देर शाम को तेजस्वी यादव से मिलने के लिए उनके पटना स्थित आवास पर पहुंचे थे. हालांकि दोनों भाईयों की मुलाकात के बाद कयासों का बाजार गरम हो गया है. माना जा रहा है कि हाल की राजनीतिक गतिविधियों और तेजप्रताप यादव द्वारा दिए जा रहे बयानों को तेजस्वी लगातार खारिज कर रहे हैं. इसलिए तेजप्रताप भाई से मिलने के लिए पहुंचे हैं. वहीं, तेजप्रताप ने मुलाकात के बाद कहा कि यह कृष्ण और अर्जुन की मुलाकात थी.

तेजप्रताप यादव ने तेजस्वी यादव से मुलाकात के बाद कहा कि उनसे केवल राजनीतिक मुद्दों पर बात हुई. उन्होंने कहा कि दोनों भाइयों में पार्टी को लेकर बात हुई है कि किस तरह से सभी को एक साथ लेकर चलना है. पार्टी को कैसे मजबूत करना है और किन लोगों को पार्टी से जोड़ना है. मतलब साफ है कि हाल में पार्टी में लोगों को जोड़ने के लिए जो बयानबाजी हुई थी उसपर चर्चा की गई है. वहीं, माना जा रहा है कि पाटलिपुत्र सीट पर चल रहे घमासान को लेकर भी चर्चा हुई होगी.

तेजप्रताप यादव और तेजस्वी यादव की मुलाकात के बाद दोनों की कुछ तस्वीरें सामने आई है. जिसमें दिख रहा है कि तेजस्वी यादव तेजप्रताप का पैर छुकर आर्शीवाद ले रहे हैं.

वहीं, तेजप्रताप यादव ने मुलाकात के बाद ज्यादा कुछ बताने से परहेज किया और कहा यह मुलाकात कृष्ण और अर्जुन की थी. वहीं, उन्होंने कहा कि 9 तारीख को होनेवाला कार्यक्रम रद्द कर दिया गया है. उन्होंने बताया कि 11 जनवरी को पिता लालू यादव की जमानत पर फैसला आना है इसिलए इस लिहाज से कार्यक्रम को रद्द कर दिया गया है.

आपको बता दें कि तेजप्रताप यादव लगातार पाटलिपुत्र सीट से अपनी बहन मीसा भारती के चुनाव लड़ने का दावा कर रहे हैं. जिसके बाद सियासत शुरू हो गई है. वहीं, भाई वीरेंद्र भी इस सीट पर ताल ठोक रहे हैं जिसके बाद आरजेडी में फुट की बात भी सामने आ रही है. हालांकि सियासत गरम होने के बाद तेजप्रताप यादव ने कहा कि सीटों का फैसला पार्टी प्रमुख लालू यादव तय करेंगे.

तेजप्रताप यादव के बयानों से यह भी माना जा रहा है कि तेजस्वी यादव और राबड़ी देवी सभी उनसे नाराज है. शायद इसलिए तेजप्रातप भाई तेजस्वी यादव से मिलने के लिए पहुंचे थे.